Loading...

आर्थर रोड जेल के बाद अब भोपाल में भी बन गई अंडा सेल | BHOPAL NEWS

भोपाल। आर्थर रोड जेल के बाद अब भोपाल में भी अंडा सेल बन गई है। बताया जा रहा है कि 25 जून से इसे शुरू कर दिया जाएगा। हाई सिक्योरिटी अंडा सेल में खूंखार बंदियों और आतंकवाद के आरोपी सिमी नेताओं को शिफ्ट किया जाएगा। ढाई साल पहले सिमी के 8 नेताओं द्वारा राजधानी की सेंट्रल जेल ब्रेक करने की घटना के बाद जेल की सुरक्षा पर सवाल उठने लगे थे। 

इस बीच अधिकारियों द्वारा पुणे की यरवदा जेल का दौरा कर वहां बनी अंडा सेल का निरीक्षण किया गया था। इसके बाद भोपाल की सेंट्रल जेल में अंडा सेल बनाने का फैसला लिया था। शासन से स्वीकृति मिलने के बाद करीब एक साल पहले सेंट्रल जेल के अंदर अंडा सेल का निर्माण शुरू हुआ। इसमें 31 बैरक बनाए गए है। अंडा सेल की बैरक में सेंध लगाना संभव नहीं होता है। इसका लगभग काम पूरा हो चुका है। अंडा सेल करीब 20 हजार वर्ग फीट एरिया में लगभग चार करोड़ की लागत से बनी है।

कई विदेशी जालसाज भी काट रहे है सेंट्रल जेल में सजा

सेंट्रल जेल में अबु फैजल और सफदर नागौरी समेत सिमी के 28 आतंकी बंद हैं। सफदर नागौरी और उसके 9 साथियों को इंदौर कोर्ट से सजा सुनाई जाने के बाद गुजरात की जेल से भोपाल सेंट्रल जेल शिफ्ट किया गया था। जैसे-जैसे अंडा सेल का काम पूरा हो रहा है वैसे-वैसे सिमी के आतंकियों द्वारा दूसरे प्रदेश की जेलों में शिफ्ट करने के लिए आवेदन किए जा रहे हैं। सिमी के आतंकियों के अलावा जेल में विदेशी जालसाज भी बंद हैं।

निर्माण एजेंसी 25 जून तक जेल प्रबंधन को सौंपेंगी सेल

महानिदेशक सेंट्रल जेल संजय चौधरी ने बताया निर्माण एजेंसी को बोला है कि 25 जून से पहले अंडा सेल जेल प्रबंधन को सौंपे। इसके बाद खुंखार बंदियों को अंडा सेल में शिफ्ट कर दिया जाएगा। इंदौर और छिंदवाड़ा की सेंट्रल जेल में भी अंडा सेल को मंजूरी मिली है।