Advertisement

हे राम! TI अपने घर हुई चोरी की रिपोर्ट अपने ही थाने में दर्ज नहीं करवा पाए | BHOPAL NEWS



भोपाल। चोरों को पुलिस का संरक्षण किस हद तक मिलता है, यह मामला इसका जीता जागता प्रमाण है। अशोक गौतम 2 माह पहले तक ईंटखेड़ी थाना के प्रभारी थे। हाल ही में तबादला हुआ है। परिवार ईंटखेड़ी थानाक्षेत्र में ही रहता था। नया थानेदार कैलाश सोलंकी उनका बैचमेड है।  बीते रोज अशोक के घर चोरी हो गई। चोरों को पकड़ना तो दूर की बात ईंटखेड़ी थाना पुलिस ने मामला ही दर्ज नहीं किया। सारी किस्सा जब सोशल मीडिया पर वायरल हुआ तब कहीं जाकर ​एफआईआर लिखी गई।

दो माह पहले अशोक गौतम ईंटखेड़ी थाना प्रभारी थे। बड़े पैमाने पर हुए तबादलों के दौरान गौतम का ट्रांसफर भिंड जिले में मेहगांव थाने में हो गया। ईटखेड़ी में रहने के दौरान उन्होंने होली क्रॉस स्कूल के पास स्थित माया इन्क्लेव में एफ-14 नंबर का डुप्लेक्स किराए पर लिया था। गौतम ने मेहगांव थाने की कमान संभाल ली थी, लेकिन इस मकान में उनकी पत्नी पूजा अपने दोनों बच्चों के साथ रह रही थीं। पिछले दिनों बेटे के स्कूल की छुट्टी लगने पर वह भी बच्चों को लेकर पति के पास मेहगांव चली गईं। सुरक्षा की दृष्टि से मकान की चाबी वह सिपाही शैलेंद्र को दे गई थीं। तीन दिन पहले काम आने पर सिपाही शैलेंद्र मकान में ताला लगाकर अपने घर चला गया था।

बुधवार सुबह वह वापस लौटा तो उसने घर का ताला टूटा देखा। घर के अंदर भी सामान बिखरा पड़ा था। बदमाशों ने अंदर के कमरों में लगे ताले तोड़े और अलमारी का ताला तोड़कर लॉकर में रखे सोने के जेवरातों पर हाथ साफ कर दिया। चोर लॉकर में रखा नेकलेस, चूड़ी, तीन अंगूठी, दो चेन, मंगलसूत्र सहित करीब 16 तोला वजनी सोने के जेवर चुरा ले गए। चोरी गए सोने की कीमत करीब 5 लाख रुपए है।

सिपाही शैलेंद्र ने पहले घटना की सूचना अशोक गौतम को दी। इसके बाद ईंटखेड़ी थाने पहुंचकर चोरी के बारे में थाना प्रभारी कैलाश सोलंकी को बताया लेकिन थाना प्रभारी ने एफआईआर दर्ज करना तो दूर न तो घटना स्थल का मौका मुआयना कराया न ही एफएसएल टीम से जांच कराई। शुक्रवार को घटना सोशल मीडिया पर वायरल हुई तो आनन-फानन में अज्ञात लोगों के खिलाफ चोरी का केस दर्ज किया गया। इस मामले में ईंटखेड़ी थाना प्रभारी का कहना है कि मकान मालिक के नहीं आने के कारण रिपोर्ट दर्ज नहीं की गई थी।

एक ही बैच के हैं दोनों टीआई 

अशोक और कैलाश वर्ष 2007 बैच के सब इंस्पेक्टर हैं। चोरी गए जेवर पूजा के थे। इनमें से कुछ जेवर उन्होंने फरवरी में हुई ननद की शादी के दौरान बनवाए थे। अफसरों का दबाव पड़ने के बाद ईंटखेड़ी पुलिस ने पूजा की शिकायत पर अज्ञात के खिलाफ चोरी का केस दर्ज कर लिया है।