Loading...

अमित शाह को हत्या का आरोपी कहना आचार संहिता का उल्लंघन नहीं: राहुल गांधी को क्लीनचिट | NATIONAL NEWS

भोपाल। कांग्रेस के अध्‍यक्ष राहुल गांधी ने मध्यप्रदेश के जबलपुर में आयोजित आमसभा में भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह को हत्या का आरोपी बताया था। बीजेपी ने इसे आचार संहिता का उल्लंघन बताते हुए चुनाव आयोग से शिकायत की थी। आयोग ने भाजपा की शिकायत को खारिज कर दिया है। यानी अमित शाह को हत्या का आरोपी कहना आचार संहिता का उल्लंघन नहीं है। 

अमित शाह के बेटे पर भी निशाना साधा था

दरअसल, 23 अप्रैल को राहुल गांधी ने मध्य प्रदेश के जबलपुर में एक रैली को संबोधित करते हुए बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह को हत्यारोपी बताया था। राहुल ने कहा था, 'हत्या के आरोपी बीजेपी अध्‍यक्ष अमित शाह, वाह क्या शान है। क्या आपने जय शाह का नाम सुना है? वह जादूगर है। 50 हजार रुपये को तीन महीने में 80 करोड़ बना देता है।

अमित शाह ने राहुल के आरोपों का जवाब देते हुए कहा था, 'मेरे खिलाफ एक फर्जी केस दर्ज किया गया था, जिसमें कोर्ट का फैसला आ चुका है। फैसले का निचोड़ था कि यह राजनीति से प्रेरित मामला था और इसमें कोई सबूत नहीं थे। बाकी मैं राहुल गांधी की कानूनी जानकारी पर कोई टिप्पणी नहीं करना चाहता।

20 मिनट बाद मोदी जनता को अपना चेहरा नहीं दिखा पाएंगे

राहुल गांधी ने यहां की जनसभा में 'चौकीदार चोर है' के नारे भी लगवाए थे। उन्होंने पीएम मोदी पर हमला करते हुए कहा था, 'नरेंद्र मोदी हमसे डरते हैं। आप जहां चाहें हमसे डिबेट कर लें। 20 मिनट लगेंगे हिंदुस्तान का प्रधानमंत्री जनता को अपना चेहरा नहीं दिखा पाएगा। नरेंद्र मोदी डरते हैं।