ग्वालियर-चंबल में कई नेताओं को नजरबंद किया, शिवपुरी में यादव-आदिवासियों के बीच संघर्ष | MP NEWS

Advertisement

ग्वालियर-चंबल में कई नेताओं को नजरबंद किया, शिवपुरी में यादव-आदिवासियों के बीच संघर्ष | MP NEWS

भोपाल। ग्वालियर-चंबल इलाके में बड़े नेताओं को नजरबंद कर दिया गया है। उन्हें सिर्फ वोट देने की अनुमति दी गई है। हेमंत कटारे सहित कई नेताओं के घरों के बाहर पुलिस तैनात कर दी गई है। शिवपुरी के पोहरी क्षेत्र में मतदान को लेकर दो पक्षों में झड़प का मामला सामने आया है। ग्राम लोखरी मतदान केंद्र क्रमांक 161 पर कांग्रेस के पक्ष में वोट डालने को लेकर आदिवासी व यादवों में झड़प की बात सामने आई। आदिवासियों ने आरोप लगाया है कि यादव समाज के लोग लाठी के दम पर कांग्रेस प्रत्याशी के पक्ष में वोट डालने के लिए दबाव बन रहे थे।

भोपाल जनसंर्पक केंद्र 152 में हंगामा, सुरक्षाकर्मियों पर महिला मतदाताओं से अभद्रता करने का आरोप। महिलाओं ने कहा गालियां दीं। प्रदेश के जनसंपर्क मंत्री पहुंचे। करीब एक घंटे मतदान नहीं हुआ। भोपाल के डीआईजी बंगले स्थित मतदान केंद्र पर भाजपा पोलिंग एजेंट को कांग्रेस के एजेंट ने धमकाया और बूथ से बाहर निकाल दिया। महापौर आलोक शर्मा नेताओं के साथ पहले मतदान केंद्र पहुंचे फिर थाने गए। मंत्री आरिफ अकील के भाई आमिर अकील पर धमकाने का आरोप लगाया गया है। 

मशीन में खराबी की वजह से कई जगह समय पर शुरू नहीं हुआ मतदान। भोपाल में बूथ क्रमांक 154, 348 बरकतउल्ला विश्वविद्यालय की वोटिंग मशीन में खराबी आने की वजह से वोटिंग समय पर शुरू नहीं हो सकी।

चार इमली के मतदान केंद्र पर भी समय पर मतदान शुरू नहीं हो पाया, इसी पर निर्वाचन अधिकारी वीएल कांताराव सहित अन्य प्रशासनिक अधिकारी यहां मतदान करने पहुंचे। भोपाल में बूथ क्रमांक 217,218,219,220 पर भी मतदान समय पर शुरू नहीं हो सका है, यहां मतदाताओं की लंबी कतार लगी है।