लापता पत्नी को ढूढने निकले पति ने पता बताने वाली की ही हत्या कर दी | JABALPUR NEWS

जबलपुर। एक सहायता समूह के करीब डेढ़ लाख रुपए लेकर लापता पत्नी की फोटो दिखाकर उसकी पतासाजी में जुटे कटंगी निवासी शंभू चौधरी (Shambhu Chaudhary) ने हल्ले भाई गौंड़ (Halle Brothers Minor) निवासी पौडी राजघाट कटंगी की 17 मई की शाम हत्या की थी। हल्ले ने मोबाइल पर फोटो देखने के बाद यह बोल दिया था कि महिला से उसके संबंध हैं। पत्नी के चरित्र पर लांछन बर्दाश्त नहीं कर पाया और बिजली के सीमेंट पोल के टुकड़े से सिर पर हमला कर शंभू ने हल्ले को मौत के घाट उतार दिया। कटंगी पुलिस ने आरोपित को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस अधीक्षक निमिष अग्रवाल ने प्रेस कांफ्रेंस में हत्याकांड का खुलासा किया।   

एसपी ने बताया कि शंभू चौधरी की पत्नी कई दिनों से लापता है। शंभू उसकी तलाश में जुटा था। 17 मई को शंभू लोडिंग ऑटो लेकर लुहारी गांव स्थित एक दुकान पहुंचा जहां मौजूद लोगों को मोबाइल पर अपनी पत्नी की फोटो दिखाकर पूछताछ करने लगा। उसने बताया कि उसकी पत्नी लापता हो गई है, जिसकी तलाश में वह भटक रहा है। वहां मौजूद हल्ले भाई गौंड ने फोटो देखते ही शंभू की पत्नी की पहचान कर ली और बताया कि महिला दो दिन पूर्व बस में बैठकर जाते दिखाई दी थी। इसी बीच हल्ले ने मुरगवां चौराहे तक जाने के लिए शंभू से ऑटो में लिफ्ट मांगी। दोनों ऑटो से रवाना हुए तभी हल्ले ने शंभू से कहा कि लापता महिला से उसके संबंध हैं। उसने कुछ और लोगों के साथ भी महिला का नाम जोड़ दिया। शंभू को यह बर्दाश्त नहीं हुआ और मुरगवां चौक पर ऑटो रोककर वह हल्ले से विवाद करने लगा। 

विवाद इतना बढ़ गया कि खेत में पड़ी सीमेंट पोल के टुकड़े से शंभू ने हल्ले के सिर पर वार कर दिया। हल्ले की हत्या (Murder) करने के बाद शंभू भोलानगर चंडालभाटा स्थित अपनी झुग्गी में चला गया। पुलिस ने झुग्गी से लोडिंग ऑटो, वारदात के दौरान पहने हुए कपड़े आदि जब्त कर लिए। हल्ले का रक्तरंजित शव 19 मई को सुबह करीब 9 बजे मुरगवां चौक स्थित खेत में मिला था।