Advertisement

इंदौर के व्यापारी का किडनैप बेटा मुंबई में मिला | INDORE NEWS



इंदौर। सदर बाजार थाना क्षेत्र से अपहृत किराना व्यापारी (Grocery trader) का 15 वर्षीय बेटा मुंबई के वसई में मिला है। वसई जीआरपी की सूचना पर इंदौर पुलिस की एक टीम बच्चे को लेने मुंबई रवाना हुई है। बच्चा गुरुवार शाम दुकान का सामान लेने दुकान पर आए एक युवक के साथ बाइक से गया था। परिजनों की शिकायत पर पुलिस उसे तलाश रही थी। क्षेत्र में लगे सीसीटीवी कैमरे चेक करने पर बच्चा एक बाइक पर जाता दिखा था। 

सदर बाजार थाना प्रभारी अजय वर्मा ने बताया कि सविता सिंह (Savita Singh) ने गुरुवार देर शाम 15 वर्षीय बेटे सचिन सिंह (Sachin Singh) के अपहरण की शिकायत दर्ज करवाई थी। सविता के अनुसार दुकान पर सामान लेने आया 30 से 35 साल का युवक उसे अपने साथ ले गया था। युवक ने उसके घर में शादी समारोह होने की बात कहते हए ज्यादा सामान की मांग की थी, जो दुकान में उलपब्ध नहीं होने पर बच्चे को सामान लाने बाजार भेजा था। रुपए कम पड़ने पर वह लौटकर घर आया था, इसके बाद वह युवक आया और बच्चे को साथ में जल्दी से सामान लाने का कहकर ले गया। आसपास के फुटेज चेक करने पर दो जगह वह नजर आया है। उसने बच्चे से ढाई हजार रुपए भी निकलवाएं हैं। बैंक से भी डिटेल निकलवा रहे हैं। 

मां सविता सिंह ने बताया कि शाम साढ़े 5 बजे के करीब मैं घर पर चाय पी रही थी। इसी दौरान मेरा बेटा सचिन सिंह आया और कहा कि मम्मी एक अंकल आए हैं सामान ले जाने। मैंने उसे कहा कि सामना दे दे। इस पर उसने कहा कि सामान ज्यादा है, इसलिए आप चलो। जब मैं दुकान पर पहुंची तो वह सामान की लिस्ट और बैग दुकान पर रखकर 15 से 20 मिनट का कहकर चला गया था। सामान ज्यादा होने पर मैंने बेटे को दो हजार रुपए दिए और सामान लाने के लिए बेटे को भेज दिया। सामान का बिल पांच हजार रुपए से ज्यादा का बनने पर बेटा लौट आया। इस पर मैंने उसे दो हजार रुपए और एटीएम कार्ड दिया। इसी दौरान वह दुकान पर आया और बोला कि भाभी सामान आ गया क्या। इस पर मैंने कहा कि नहीं भैय्या सामान का बिल ज्यादा होने पर बेटा रुपए लेने आया है। अभी कुछ देर में आ जाएगा। इस पर उसने कहा कि आप बच्चे को मेरे साथ भेज दो हम जल्दी से सामान लेकर आ जाएंगे। इकसे बाद बेटा उसके साथ गया, लेकिन फिर लौट कर नहीं आया।

बेटे ने ही किया कॉल 

मिली जानकारी अनुसार शुक्रवार दोपहर एक अंजान नंबर से बेटे ने मां सविता को मोबाइल पर कॉल किया और मुंबई में होने की बात कही। मां द्वारा पुलिस को सूचना देने के बाद पुलिस ने उक्त नंबर पर कॉल कर पुष्टि की और एक टीम मुंबई के लिए रवाना हो गई। पुलिस के अनुसार बच्चा मुंबई कैसे पहुंचा इसकी पड़ताल की जा रही है।