Loading...

शिवपुरी पुलिस ने गुना पुलिस को थाने में लूटा, 2 सिपाही ​सस्पेंड | MP NEWS

शिवपुरी। बात अजीब सी है लेकिन घटना हुई है। ​गुना में तैनात मप्र पुलिस के आरक्षक ने शिकायत की है कि शिवपुरी पुलिस के 2 आरक्षकों ने चुनाव सर्चिंग के नाम पर बाजार से पकड़ा और थाने ले गए। यहां स्मैक की तस्करी का झूठा मामला दर्ज करने की धमकी दी और पास में मौजूद 60 हजार रुपए लूटकर थाने से भगा दिया। सारी घटना थाना परिसर में जब्त एक ट्रक के पीछे हुई। एसपी शिवपुरी ने दोनों आरोपी आरक्षकों को सस्पेंड कर दिया है। 

जानकारी के अनुसार देवेंद्र धाकड़ ने एसपी ऑफिस में शिकायत दर्ज कराई है कि वह ट्रैफिक थाना गुना में पदस्थ है। शादी के चलते शिवपुरी आया था और पुरानी शिवपुरी में कपड़े खरीदने गया था। इमामबाड़ा पुरानी शिवपुरी में अपने दो दोस्तों के साथ खड़ा था। तभी देहात थाने में पदस्थ आरक्षक ऋषभ करारे और प्रशांत जादौन आए और पूछताछ करने लगे। इसके बाद मारपीट करने लगे और थाने चलने को कहा। हम थाने चले गए और जहां ट्रक के पीछे ले जाकर ऋषभ व प्रशांत ने स्मैक के केस में फंसाने की धमकी दी। देवेंद्र के मुताबिक थाने में ले जाने के बाद हमने टीआई से मिलवाने के लिए कहा। लेकिन दोनों ने टीआई से भी नहीं मिलने दिया और हमारे 60 हजार रुपए छीन लिए। 

दिल्ली से लौटकर गुना ज्वाइनिंग की, फिर शिवपुरी आकर शिकायत की 

देवेंद्र धाकड़ का कहना है कि वह शादी समारोह में शामिल होने दिल्ली चला गया। वापस गुना लौटकर ज्वाइनिंग दी। इसके बाद गुरुवार को शिवपुरी आकर पुलिस अधीक्षक कार्यालय में लिखित शिकायत दर्ज कराई है। वहीं मामले में देहात थाने के आरक्षक ऋषभ करारे का कहना है कि उसने किसी के साठ हजार रुपए नहीं छीने। गलत आरोप लगाए जा रहे हैं। 

जो आरक्षक पहचानता था उसने भी सिर्फ इतनी मदद की

आरक्षक देवेंद्र का कहना है कि साठ हजार रुपए छीन लेने के बाद दोनों ने पूछा कि देहात थाने में तुम्हारा कोई परिचित है। हमने आरक्षक का नाम बता दिया। उस आरक्षक ने आकर 5 हजार रुपए वापस दिलवा दिए। इसके बाद भी दोनों आरक्षकों ने आकर 250 रुपए का बाइक का चालान काट दिया। हम तीनों को थाने से भगा दिया। 

इनका कहना है

गुना में पदस्थ ट्रैफिककर्मी से देहात थाने के जिन दो आरक्षकों ने रुपए छीने थे, उनको लाइन अटैच कर सस्पेंड कर दिया है। दोनों के खिलाफ देहात थाने में मुकदमा भी दर्ज करा दिया है। मामले की जांच करा रहे हैं। 
राजेश हिंगणकर, एसएसपी, शिवपुरी