FANI CYCLONE LIVE NEWS HINDI | चक्रवाती तूफानी की ब्रेकिंग न्यूज लगातार अपडेट हो रही हैं | TOOFAN

Advertisement

FANI CYCLONE LIVE NEWS HINDI | चक्रवाती तूफानी की ब्रेकिंग न्यूज लगातार अपडेट हो रही हैं | TOOFAN

नई दिल्ली। पूरे देश के दिलों में दहशत का दूसरा नाम बन चुका फानी नामक चक्रवाती तूफान भारत की जमीन से टकरा चुका है। तुफान ओडिशा में पुरी के तट से टकरा गया है। यहां 175 से 180 किलोमीटर की रफ्तार से हवाएं चल रही हैं। बस्तियों में पानी भर गया है। हम यहां आपको तूफान से जुड़ी सभी प्रमुख खबरें उपलब्ध कराते रहेंगे। बस आप इस पेज को समय समय पर ओपन करते रहें। 

15 जिलों के 11 लाख लोग राहत शिविरों में

मौसम विभाग के मुताबिक, यह बंगाल से होता हुआ बांग्लादेश की तरफ बढ़ेगा ऐसे में पश्चिम बंगाल के तटवर्ती इलाकों में भी चेतावनी जारी कर दी गई है। ओडिशा में एहतियात के तौर पर 15 जिलों से 11 लाख लोगों को सुरक्षित जगहों पर पहुंचा दिया गया है। यह 20 साल में ओडिशा से टकराने वाला सबसे खतरनाक तूफान है।

BREAKING NEWS | इमरजेंसी नंबर ओडिशा- 06742534177, गृह मंत्रालय- 1938, सिक्युरिटी- 182




  • भयंकर तूफान के कारण इसके प्रभाव वाले इलाकों में कई जगह पेड़ उखड़ गए हैं, झोपड़ियां तबाह हो गई हैं और पुरी के कई इलाके पानी में डूबे हुए हैं। तूफान के बाद अबतक 2 लोगों की मौत की खबर है। 
  • हैदराबाद के मौसम विभाग के मुताबिक पुरी में 245 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से हवा चल रही है। ओडिशा के तटीय इलाकों में तेज बारिश हो रही है। 
  • ओडिशा के गंजम में तेज हवाएं चल रही हैं और वहां भारी बारिश भी हो रही है। हवा की रफ्तार 175 किलोमीटर प्रति घंटा है।
  • भुवनेश्वर, बेरहामपुर, बालूगांव में फैनी का जबर्दस्त असर, कई पेड़ गिरे।
  • फैनी के असर से आंध्रप्रदेश के विशाखापट्टनम में तेज हवाओं के साथ बारिश।
  • नौसेना के 3 जहाज राहत कार्य के लिए तैनात। 
  • पीड़ितों को भोजन के लिए 5000 किचन बनाए गए। 
  • तटीय जिलों में रेल, सड़क, हवाई सभी यातायात बंद। 

चक्रवात से ओडिशा के 14 जिले प्रभावित होंगे

चक्रवात दोपहर के आसपास पुरी पहुंचेगा। इसके बाद पश्चिम बंगाल का रुख करेगा। इसका असर आंध्रप्रदेश और तमिलनाडु के  उत्तर-पूर्व इलाकों में भी दिखेगा। चक्रवात से ओडिशा के 14 जिले प्रभावित होंगे। इसमें पुरी, जगतसिंहपुर, केंद्रपारा, बालासोर, भदरक, गंजम, खुर्दा, जाजपुर, नयागढ़, कटक, गाजापटी, मयूरभंज, ढेंकानाल और कियोंझार शामिल हैं। इन जिलों के करीब 10 हजार गांव चक्रवात से प्रभावित होंगे।

बंगाल से भी निकाले जा रहे सैलानी

यह तूफान पश्चिम बंगाल की ओर बढ़ेगा, ऐसे में यहां दिघा, मदारमणि, शंकरपुर, ताजपुर और अन्य पर्यटन स्थलों से सैलानियों को बाहर निकाला जा रहा है।

20 साल में ओडिशा से टकराने वाला सबसे खतरनाक तूफान

ज्वाइंट टाईफून वॉर्निंग सेंटर (जेडब्ल्यूटीसी) के मुताबिक फैनी तूफान बीते 20 सालों में अब तक का सबसे खतरनाक चक्रवात साबित हो सकता है। ओडिशा में 1999 में आए सुपर साइक्लोन से करीब 10 हजार लोग मारे गए थे। भारतीय मौसम विभाग सूत्रों के मुताबिक पिछले 43 सालों में यह पहली बार है जब अप्रैल में भारत के आसपास मौजूद समुद्री क्षेत्र में ऐसा कोई चक्रवाती तूफान उठा है। क्षेत्रीय मौसम विभाग के पूर्व निदेशक शरत साहू के मुताबिक- ओडिशा में 1893, 1914, 1917, 1982 और 1989 की गर्मियों में भी तूफान आए थे। लेकिन इस बार का चक्रवात बंगाल की खाड़ी के गर्म होने से बना है। लिहाजा यह ज्यादा खतरनाक हो सकता है।