Loading...

कर्मचारियों को चुनाव मानदेय का भुगतान नहीं मिला | EMPLOYEE NEWS

जबलपुर। मध्यप्रदेश राज्य कर्मचारी संघ ने लोकसभा चुनाव में विभिन्न कार्यों में संलग्न अधिकारियों व कर्मचारियों को मानदेय का भुगतान न किए जाने के रवैये की निंदा की है। जिला अध्यक्ष नरेश शुक्ला ने बताया कि मतदान दल कर्मचारी व मास्टर ट्रेनर आदि पदों पर कार्य तो कराया गया लेकिन राशि अप्राप्त है। राजेन्द्र त्रिपाठी, प्रशांत सोंधिया, ललित डहेरिया, पंकज शर्मा, कमलेश यादव, कुलदीप पटैल, शैलेष गौतम, स्वदेश जैन सहित अन्य ने कार्रवाई पर बल दिया है।  

महंगाई भत्ता शीघ्र दिया जाए

पेंशनर्स एसोसिएशन मध्यप्रदेश के अध्यक्ष एचपी उरमलिया ने वित्त मंत्री तरुण भनोत से मांग की है कि पेंशनर्स को 1 जनवरी 2019 से 3 प्रतिशत महंगाई भत्ता का भुगतान किया जाए। ऐसा न होने से आक्रोश बढ़ता जा रहा है। अरुण सलारिया, शेषमणि पांडे, एके पिल्ले, डीके तिवारी, आरजी गर्ग, बीआर नामदेव, गौरीशंकर पांडे, आरएस साहू, सत्तार खान ने कार्रवाई की मांग की है।

पेंशनर्स एसोसिएशन मध्यप्रदेश भोपाल के अध्यक्ष नरेश उपाध्याय व सचिव वीपी शुक्ला ने बताया कि गुरुवार को पेंशनर्स का प्रतिनिधिमंडल नवागत कलेक्टर भरत यादव से मिला। इस दौरान विभिन्न बिन्दुओं पर विमर्श किया गया। इस दौरान आरएल पांडे, प्रेमवल्लभ शर्मा, जीडब्ल्यू रत्न पारखे, डीएस गुप्ता, डीडी शर्मा मौजूद रहे।

मध्यप्रदेश तृतीय वर्ग शासकीय कर्मचारी संघ के प्रांतीय महामंत्री योगेन्द्र दुबे ने आरोप लगाया है कि कोषालय में इन दिनों जंगलराज मचा हुआ है। संयुक्त संचालक कोष एवं लेखा नित नई-नई आपत्तियां लगाकर परेशान करने पर उतारू हैं। इससे आक्रोश बढ़ता जा रहा है। सेवापुस्तिकाओं के वेतन निर्धारण, समयमान का निर्धारण, सेवानिवृत्त कर्मचारियों की सेवा पुस्तिका में सेवानिवृत्ति से पूर्व जांच आदि को लेकर विलंबित करने का रवैया अनुचित है। अर्वेन्द्र राजपूत, अवधेश तिवारी, अटल उपाध्याय, मुकेश सिंह, राजेश पांडे, संतोष राजपूत, विपिन शर्मा, चंदू जाउलकर, केपी तिवारी, सुनील गुप्ता, अनुज तिवारी, भूपेन्द्र रघुवंशी, शशिकांत अग्रवाल ने कार्रवाई की मांग की है।