पढ़ाई छोड़कर PUBG खेलता था, डांटा तो फांसी पर झूल गया | CRIME NEWS

Advertisement

पढ़ाई छोड़कर PUBG खेलता था, डांटा तो फांसी पर झूल गया | CRIME NEWS

मलकानगिरी। तेलंगाना के मलकानगिरी जिले में मेडचल के 10वीं कक्षा के एक छात्र ने कल कथित तौर पर आत्महत्या कर ली। पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। बच्चे के माता-पिता ने बताया कि उन्होंने अपने बच्चे को एसएससी की तैयारी करने के लिए कहा था। इस दौरान बच्चा ऑनलाइन गेम पबजी खेलने लगा, जिससे नाराज होकर उसके माता-पिता ने उसे डांटा था। जिससे क्षुब्द होकर बच्चे ने आत्महत्या कर ली। पुलिस ने बच्चे के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।

आपको बता दें कि पिछले महीने गुजरात के राजकोट में मोबाइल पर पबजी गेम खेलने के आरोप में दस लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया था। गुजरात पुलिस ने 6 मार्च को नोटिस जारी किया था जिसमें में 'पबजी' और 'मोमो चैलेंज' जैसे ऑनलाइन गेम्स को शहर में खेलने पर प्रतिबंध लगाया था।

इन कारणों से लगा PUBG बैन

आनलाइन गेम 'पबजी' गुजरात के कुछ जिलों में बैन है। इसके पीछे का कराण देते हुए पुलिस ने कहा कि इससे बच्चों और युवाओं में हिंसा की प्रवृत्ति बढ़ रही है। इससे बच्चों की पढ़ाई, व्यवहार, आचरण और भाषा पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ रहा है। वास्तव में पबजी एक वर्चुअल युद्ध गेम है। जिसमें काल्पनिक युद्ध क्षेत्र में आपको लोगों को मार कर जिंदा रहना पड़ता है। इसका असर बच्चों के साथ व्यस्कों पर भी पड़ रहा है। लगातार युद्ध के माहौल में रहने से बच्चों में हिंसक प्रवृत्ति बढ़ रही है।

पबजी' खेलने वालों को गिरफ्तार करने जारी हुए थे निर्देश

राजकोट पुलिस ने निर्देश जारी किया था कि कोई भी व्यक्ति अगर शहर में ऐसे गेम्स खेलते हुए पाए जाएगा तो उसकी गिरफ्तारी होगी। बाद में पुलिस ने गिरफ्तार युवकों को जमानत पर रिहा कर दिया था।