अंधविश्वास: करंट से मरे PSC छात्र का शव जमीन में गाड़ दिया | MP NEWS

Advertisement

अंधविश्वास: करंट से मरे PSC छात्र का शव जमीन में गाड़ दिया | MP NEWS

बड़नगर/उज्जैन। यहां अंधविश्वास का एक मामला सामने आया है। लोक सेवा आयोग की तैयारियां कर रहे एक युवक की पिछले दिनों आई आंधी में मौत हो गई। मृत्यु के बाद परिवार वालों ने उसके शव को जमीन में गाड़ दिया। उनका दावा था कि ऐसा करने से युवक फिर से जिंदा हो सकता है। 

ग्राम पीपली में शुक्रवार को करंट लगने पर युवक को अस्पताल ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। इसके बाद ग्रामीणों ने एक घटना का हवाला देकर पीएम नहीं करने दिया और शव को जमीन में गाड़ दिया। उनका कहना था चार दशक पहले एक ग्रामीण की करंट से सांस रुक गई थी। तब जमीन में गाड़ने पर वह जिंदा हो गया था। युवक इंदौर में पीएससी की तैयारी कर रहा था। ग्राम पीपली में हनुमान जयंती उत्सव मनाया जा रहा था। इस दौरान बवंडर उठा और 11 केवी विद्युत लाइन का तार 20 वर्षीय दीपक पिता जगदीश यादव पर आ गिरा। 

घायल को बड़नगर के अस्पताल ले गए, जहां डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। ग्रामीण शव लेकर गांव पहुंचे और चेहरा बाहर रखकर शेष हिस्से को गाड़ दिया। देर रात खबर लिखे जाने तक शव जमीन में ही गड़ा था। टीआई दिनेश प्रजापत ने बताया कि वे मामले को दिखवा रहे हैं।