BSP वाले ढूंढते ही रह गए, निशा नामांकन लेकर फरार | RAJGARH MP NEWS

Advertisement

BSP वाले ढूंढते ही रह गए, निशा नामांकन लेकर फरार | RAJGARH MP NEWS


अब्दुल वसीम अंसारी/राजगढ़। मध्यप्रदेश के राजगढ़ लोकसभा नामांकन प्रकिया के बाद नाम वापसी के आज आखरी दिन था। राजगढ़ लोकसभा से कुल 13 अभ्यर्थियों ने नामांकन दाखिल किया था। आज नाम वापसी के आखिरी दिन 2 प्रत्याशीयों ने नामांकन वापस लिया। नाम वापसी में बहुजन समाज पार्टी प्रत्याशी निशा त्रिपाठी व निर्दलीय भरत सिंह सोंधिया रहे। 

आज नाम वापसी का दिन चौंकान वाला दिन रहा जहाँ बीएसपी प्रत्याशी निशा त्रिपाठी ने अचानक अपना नामांकन फर्म वापस लेने से बीएसपी में अफरा-तफरी का माहौल बन गया और देखते देखते नाम वापसी का समय खत्म हो गया। पार्टी के लोग प्रत्याशी को ढूंढते रहे मगर प्रत्याशी आपना नामंकन फर्म खींच कांग्रेस प्रत्याशी के साथ गाड़ी में बैठ रफ्फू चक्कर हो गई। 

बीएसपी प्रत्याशी निशा त्रिपाठी के नाम वापसी को लेकर पार्टी के पूर्व जिला प्रभारी इन्दर सिंह वर्मा ने बीएसपी पार्टी के पदाधिकारी व प्रत्यशी द्वारा कांग्रेस से साठगांठ का आरोप लगाया है। बीएसपी प्रत्याशी द्वारा नाम वापसी का उत्तरदायी पार्टी के पदाधिकार व जिम्मेदारो को ठहराया साथ ही मिली भगत व साठगांठ कर बीएसपी कार्यकर्ताओं के साथ धोखा बताया है। 

गुना की रहने वालीं हैं निशा, पति भी बसपा नेता हैं

बहुजन समाज पार्टी की प्रत्याशी निशा त्रिपाठी ने अपना नामांकन वापस ले लिया। इसकी चर्चा गुना में इसलिए ज्यादा हो रही है, क्योंकि बसपा प्रत्याशी गुना की ही हैं। यही नहीं विधानसभा चुनाव में उनके पति ओपी त्रिपाठी को बसपा ने बमोरी से अपना प्रत्याशी बनाया था। उनकी नाम वापसी का यह घटनाक्रम इतना नाटकीय और अप्रत्याशित रहा कि पार्टी का कोई पदाधिकारी इस पर प्रतिक्रिया देने को तैयार नहीं।