Loading...

अध्यापकों के वेतन के लिए 200 करोड़ आवंटित | ADHYAPAK SAMACHAR

भोपाल। जनजातीय कार्य विकास विभाग के अध्यापकों काे अब जाकर मार्च की सैलरी मिल सकेगी। इसके लिए विभाग ने दाे साै कराेड़ रुपए का बजट आवंटित कर दिया है। मंगलवार काे इस बारे में आदेश भी जारी कर दिए गए। विभाग के 89 विकासखंडों के स्कूलों में कार्यरत अध्यापकों काे मार्च का वेतन नहीं मिल सका था। 

विभाग के संयुक्त संचालक वित्त चंद्रशेखर राजवैद्य एवं कृष्णा कुमरे वित्तीय सलाहकार आदिम जाति कल्याण विभाग ने मंगलवार काे आदेश जारी किए हैं। गौरतलब है कि विभाग के अधीन बैतूल, खरगाेन, बड़वानी, धार, अलीराजपुर, छिंदवाड़ा, मंडला, डिंडाेरी, होशंगाबाद कुछ जिलाें के अध्यापकों काे मार्च का वेतन नहीं मिल सका था। आजाद अध्यापक संघ के कार्यकारी अध्यक्ष शिवराज वर्मा समेत संघ के जिला पदाधिकारियों ने विभाग के अधिकारियों से इसकी शिकायत की थी। वर्मा ने बताया कि तीन दिन में वेतन देने की मांग काे लेकर मुख्यमंत्री एवं मुख्य सचिव काे चिट्ठी लिखी गई थी। 

यह बताई वजह 
आदेश में कमी का कारण गिनाते हुए बताया गया है कि अध्यापक संवर्ग के एम्पलाई डाटा बेस, पे डाटा बेस एवं पाेस्ट डाटा बेस की एंट्री काेष एवं लेखा के सेंट्रल सर्वर पर मेंटेन नहीं हाे सकी थी।