LOKSABHA CHUNAV HINDI NEWS यहां सर्च करें




बीएमओ एवं पटवारी सस्पेंड, बीएमओ और 10 अध्यापकों को नोटिस

13 April 2019

भोपाल। मध्यप्रदेश के तीन जिलों में प्रशासनिक कार्रवाई के तहत एक बीएमओ एवं एक पटवारी को सस्पेंड कर दिया गया जबकि जनपद पंचायत की महिला सीईओ और 10 अध्यापकों को कारण बताओ नोटिस जारी किए गए हैं। 

होशंगाबाद: पटवारी एवं नोडल अधिकारी हुकुम सेन सस्पेंड

होशंगाबाद। गत दिवस कलेक्टर के सिवनीमालवा भ्रमण के दौरान सेवा सहकारी समिति के गेहूं उपार्जन केन्द्र भरलाय में भारी अनियमितता पाए जाने पर उपार्जन केन्द्र में नियुक्त पटवारी एवं नोडल अधिकारी हुकुम सेन को अपने कार्य में लापरवाही एवं वरिष्ठ अधिकारियों से प्राप्त निर्देशो का पालन न करने पर अनुविभागीय अधिकारी राजस्व सिवनीमालवा द्वारा तत्काल प्रभाव से निलंबित किया गया है। हुकुम सेन का प्रभार राजस्व निरीक्षक गणपाल को सौंपा गया है। निलंबन काल के दौरान हुकुम सेन का मुख्यालय कानूनगो शाखा तहसील कार्यालय सिवनीमालवा रहेगा। निलंबन अवधि के दौरान पटवारी सेन को जीवन निर्वाह भत्ते की पात्रता होगी। यह आदेश तत्काल प्रभाव से प्रभावशील होगा।  

हरदा: बीएमओ डॉ.आरके विश्वकर्मा सस्पेंड

होशंगाबाद। नर्मदापुरम् संभाग कमिश्नर आरके मिश्रा ने कलेक्टर एवं जिला दंडाधिकारी हरदा के प्रतिवेदन के आधार पर खिरकिया के खंड चिकित्सा अधिकारी डॉ.आरके विश्वकर्मा को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया है। डॉ.विश्वकर्मा का मुख्यालय मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी कार्यालय हरदा में नियत किया गया है। डॉ.विश्वकर्मा को जीवन निर्वाह भत्ते की पात्रता रहेगी।

उल्लेखनीय है कि डॉ.विश्वकर्मा के मरीजो के साथ अभद्र व्यवहार के संबंध में जाँच अनुविभागीय दंडाधिकारी खिडकिया एवं मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी हरदा द्वारा की गई थी, जाँच में शिकायत सही पाई गई। डॉ. विश्वकर्मा का कृत्य प्रथम दृष्टया मध्यप्रदेश सिविल सेवा नियम 1965 के नियम 3 के विपरीत पाए जाने के कारण कमिश्नर श्री मिश्रा ने उन्हें तत्काल प्रभाव से निलंबित किया है।

सीईओ जनपद पंचायत बाबई सुश्री पूनम दुबे को नोटिस

होशंगाबाद। कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री शीलेंद्र सिंह ने सीईओ जनपद पंचायत बाबई सुश्री पूनम दुबे को नोटिस जारी कर जवाब माँगा है कि क्यों न उन्हें तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया जाए। कलेक्टर श्री सिंह एवं पुलिस अधीक्षक श्री एम एल छारी द्वारा 11 अप्रैल को प्राथमिक शाला रजौन में स्थित मतदान केंद्र क्रमांक 2 के निरीक्षण के दौरान पाया गया कि सूचना पटल पर मतदान का समय गलत लिखा हुआ है। शाला में शौचालय की व्यवस्था ठीक नहीं तथा परिसर की तार फेंसिंग भी नहीं की गई है। उल्लेखनीय है कि कलेक्टर श्री सिंह द्वारा निर्वाचन की बैठक में कई बार मतदान केन्द्रों पर समुचित व्यवस्थाएं करने तथा सूचना पटल पर सही जानकारी अंकित करने संबंधित निर्देश दिए गए है। साथ ही अधिकारियों को अपने क्षेत्र के मतदान केन्द्रो का निरीक्षण करने के लिए भी कहा गया है। अत: सुश्री दुबे को शासन के निर्देशों एवं वरिष्ठ अधिकारियों के आदेशो का पालन न करने के कारण उक्त नोटिस जारी किया गया है।

दमोह में 10 अध्यापकों को कारण बताओ नोटिस

दमोह। कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी नीरज कुमार सिंह द्वारा गत दिवस तहसील हटा एवं पथरिया में चल रहे प्रशिक्षण संस्था का निरीक्षण किया गया। इस दौरान ईव्हीएम मशीन का संयोजन एवं संचालन मॉकपोल प्रक्रिया पूर्ण करने तथा सीआरसी तथा मशीन को क्लीयर करने संबंधी जानकारी नहीं दिये जाने पर 10 अध्यापकों को अपर कलेक्टर एवं उप जिला निर्वाचन अधिकारी आनंद कोपरिहा द्वारा जिला शिक्षा अधिकारी के माध्यम से कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है।

उन्होंने कहा है इस प्रकार की लापरवाही एवं उदासीनता बरतने की कारण क्यों ने संबंधितों के विरूद्ध म.प्र. सिविल सेवा वर्गीकरण नियंत्रण एवं अपील के तहत दण्डित किये जाने हेतु कार्यवाही की जाये। तत्संबंध में संबंधितों को नोटिस प्राप्ति उपरांत उत्तर जिला निर्वाचन कार्यालय में प्रस्तुत करने निर्देशित किया गया है। समय अवधि में नोटिस का जवाब प्राप्त नहीं होन की दशा में संबंधित के विरूद्ध एक पक्षीय कार्यवाही की जायेगी।

इन्हें मिला कारण बताओ नोटिस
शासकीय महारानी लक्ष्मीबाई शाला हटा अध्यापक चंदा पटैल, प्रमिला साहू, प्रीति असाटी एवं पप्पू रजक तथा शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय बटियागढ़ के अध्यापक आरती दुबे, उमा सोनकिया, साधना तिवारी, विष्णुकांत तिवारी, मोहन कुमार महोबिया और राजाराम ठाकुर को कारण बताओ नोटिस जारी किये गये है।



-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

Suggested News

Loading...

Advertisement

Popular News This Week

 
-->