Advertisement

अपराध ना करो तो पुलिस प्रताड़ित करती थी: सुसाइड VIDEO वायरल | BHOPAL NEWS



भोपाल। मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल पुलिस का 'अपराधी चेहरा' सामने आया है। एक युवक ने 27 फरवरी को सुसाइड किया। अब उसका एक वीडियो वायरल हो रहा है जो उसने सुसाइड करने से पहले रिकॉर्ड किया था। इस वीडियो में युवक बता रहा है कि किस तरह पुलिस उसे 'अपराध' करने के लिए मजबूर करती थी। यदि वो 'अपराध' ना करे तो पुलिस उसे प्रताड़ित करती थी। उसने पुलिस पर झूठे केस दर्ज करने का आरोप लगाया है। उसने कहा कि पुलिस ने उसे सुधारने के बजाए कुख्यात अपराधी बनाया। सुसाइड वीडियो में युवक ने अपने अंग गरीबों को दान करने की बात कही है।

नया बसेरा निवासी विकास उर्फ बंटी मसीह पिता सिल्लू मसीह पर 2011 से हत्या, हत्या के प्रयास जैसे कई संगीन अपराध दर्ज थे। अक्टूबर 2018 में बंटी के खिलाफ डकैती की योजना बनाने का केस दर्ज हुआ था। साथ ही उसकी गिरफ्तारी पर 5 हजार रुपए का ईनाम भी घोषित किया गया था। 27 फरवरी की दोपहर करीब तीन बजे बंटी ने अपने घर में फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली थी।

एक लाख रूपए मांग रहे थे पुलिसकर्मी
वीडियो सामने आने के बाद बुधवार को मृतक के परिजनों ने एसपी साउथ सम्पत उपाध्याय के ऑफिस में एक आवेदन दिया है। आवेदन में परिजनों ने कमला नगर थाने के पुलिसकर्मी महेश सोनी, जादौन, ऋषि और कपिल पर प्रताड़ना का आरोप लगाया है। आवेदन में चार पुलिसकर्मियों पर आरोप है कि वे बंटी को एक लाख रुपए के लिए परेशान कर रहे थे। एसपी साउथ संपत उपाध्यय ने कहा है कि मामले की जांच की जा रही है। जो भी पुलिसकर्मी दोषी होंगे उनके खिलाफ कार्रवाई की जायेगी। साथ ही एसपी संपत उपाध्याय ने वीडियो की निष्पक्ष जांच कराने की भी बात कही है। उन्होंने कहा है कि पुलिस के व्यवहार की बात अगर सही साबित हुई, तो पुलिस के खिलाफ़ कार्रवाई होगी।