Loading...

PUBG के कारण पैरालिसिस अटैक, मौत | NATIONAL NEWS

नई दिल्ली। एक बार फिर ONLINE MOBILE GAME PUBG की लत ने एक 20 वर्षीय छात्र की जान ले ली। घटना तेलंगाना के जगतियाल शहर की है। यहां एक छात्र 45 दिन तक लगातार ऑनलाइन गेम पबजी खेलता रहा जिसकी वजह से उसकी मौत हो गई। बता दें कि इस खेल की लत लोगों के लिए जानलेवा हो गई है। इसे खेलने वाले हिंसक होते जा रहे हैं। वो असामाजिक एवं असंवेदनशील हो रहे हैं। यह खेल लोगों के मन और सोचने के तरीके, व्यवहार व स्वास्थ्य पर सीधा प्रभाव डाल रहा है। 

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, छात्र 45 दिन तक लगातार पबजी खेलता रहा जिसके कारण उसकी गर्दन में दर्द शुरू हो गया था। उसे हैदराबाद के अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। इस बारे में डॉक्टर्स ने बताया कि छात्र पैरालिसिस से पीड़ित था। वह कई दिनों से बीमार चल रहा था। उसकी गर्दन के आसपास की नसों में इतनी सूजन आ गई कि वह गर्दन तक नहीं हिला पा रहा था। लगातार नसों पर दबाव पड़ने से वह क्षतिग्रस्त हो गई थीं। जिस कारण उसकी मौत हो गई।

मालूम हो कि इसके पहले महाराष्ट्र के हिंगोली में दो छात्रों की मौत ट्रेन की चपेट में आने से हो गई थी। दोनों छात्र गेम खेलने में इतने मशगूल हो गए थे कि वो पटरी पर आ गए और उनकी मौत हो गई। 

बता दें कि ऑनलाइन गेम पबजी को बैन करने की मांग लगातार उठ रही है। कहा जा रहा है कि गेम के कारण बच्चे गुमराह हो रहे हैं। गुजरात में तो इस गेम को बैन तक कर दिया है। अब तक 50 से ज्यादा लड़कों को गिरफ्तार किया जा चुका है एवं 200 से ज्यादा मोबाइल जब्त किए गए हैं।