विंग कमांडर वी. अभिनंदन को फॉलो ना करें, साइबर स्ट्राइक के शिकार हो सकते हैं: रक्षा मंत्रालय | NATIONAL NEWS

Advertisement

विंग कमांडर वी. अभिनंदन को फॉलो ना करें, साइबर स्ट्राइक के शिकार हो सकते हैं: रक्षा मंत्रालय | NATIONAL NEWS


नई दिल्ली। भारत के रक्षा मंत्रालय ने प्रेस रिलीज जारी कर कहा है कि पाकिस्‍तानी वायुसेना के एफ-16 लड़ाकू विमान को मिग-21 बाइसन द्वारा गिराए जाने के बारे में विभिन्‍न सोशल मीडिया साइट्स पर गलत सूचनाएं फैलाई जा रही हैं। 

भारतीय वायुसेना ने 28 फरवरी 2019 को जारी प्रैस वक्‍तव्‍य में स्‍पष्‍ट किया था कि पाकिस्‍तानी वायुसेना का एफ-16 लड़ाकू विमान, मिग-21 बाइसन द्वारा मार गिराया गया और वह नियंत्रण रेखा के पार जाकर गिरा। इसके अलावा पिछले एक हफ्ते में विंग कमांडर वी. अभिनंदन के जाली अकाउंट  बनाए गए हैं। भारतीय वायुसेना ने 06 मार्च, 2019 को सूचित किया था कि विंग कमांडर वी. अभिनंदन का ट्विटर और इंस्‍टाग्राम पर कोई भी आधिकारिक सोशल मीडिया अकाउंट नहीं है और इसलिए इन अकाउंट्स को फॉलो न करने की सलाह दी जाती है क्‍योंकि इनमें कुछ दुर्भावनापूर्ण सॉफ्टवेयर हो सकता है।

फेक अकाउंट फॉलो करने से क्या होता है
ज्यादातर साइबर अपराधी इस तरह के फेक अकाउंट बनाते हैं। वो लोगों की अज्ञानता और भावनाओं का फायदा उठाते हैं। ऐसे अकाउंट के माध्यम से आपका डाटा चोरी किया जा सकता है। आपके सोशल मीडिया अकाउंट को आसानी से हैक करके उसका इस्तेमाल आतंकवादी गतिविधियों में किया जा सकता है। आपके पासवर्ड जानकर कुछ भी किया जा सकता है।