LOKSABHA CHUNAV HINDI NEWS यहां सर्च करें




ADHYAPAK: वेतन ट्रेजरी एम्प्लाई कोड से होगा | MP NEWS

02 March 2019

भोपाल। राज्य अध्यापक संघ (RAJYA ADHYAPAK SANGH) के जिला शाखा अध्यक्ष डीके सिंगौर (D.K. SINGORE) ने कार्यालय कमिश्नर ट्रायवल (Office of commissioner tribal) से प्राप्त जानकारी के आधार पर बताया कि ट्रायवल विभाग (Tribal Department) में अध्यापक संवर्ग से शिक्षक संवर्ग में (Adhyapak to Shikshak) नियुक्त किये गए शिक्षकों का मार्च पेड अप्रैल माह का वेतन ट्रेजरी एम्प्लाई कोड (Treasury Employee Code) के माध्यम से होगा। इस प्रक्रिया के चलते नियुक्त हुए प्राथमिक माध्यमिक और उच्च माध्यमिक शिक्षकों को जिला कोषालय में एम्प्लाई डाटा बेस प्रपत्र भरकर जमा करने जैसी जटिल प्रक्रिया नहीं करनी पड़ेगी। 

प्रदेश कार्यालय द्वारा ही ऑनलाइन यह प्रक्रिया पूर्ण की जायेगी। इस हेतु अध्यापक से शिक्षक संवर्ग में नियुक्त हुए शिक्षकों को एमपी टास पोर्टल में शिक्षक पंजीयन क्रमांक डालकर अपनी ई मेल आई डी, मोबाइल नम्बर, बैंक खाता नम्बर और आई एफ एस कोड की प्रविष्टी करनी पड़ेगी। उक्त कार्य प्रारम्भ करने हेतु शीघ्र एमपी टास्क पोर्टल पर प्रविष्टि करने की सुविधा प्रारम्भ होने वाली है। कार्य को शीघ्रता से सम्पन्न कराने हेतु राज्य अध्यापक संघ की जिला इकाई ने शिक्षकों से अपील की है कि वे उक्त जानकारी संकुल प्राचार्यों को लिखित में दे दें ताकि शीघ्रता से कार्य सम्पन्न हो सके। शिक्षक स्वयम शिक्षक पंजीयन क्रमांक के आधार पर प्रविष्टी कर सकते हैं। 

उल्लेखनीय है कि मार्च पेड अप्रैल माह से नियुक्त शिक्षकों की एन पी एस राशि भी सीधे कोषालय के माध्यम से एन एस डी एल में जमा की जायेगी। जिसके लिए सभी पेंडिंग राशि अध्यापकों के प्रान खाते में जमा कराई जा रही है। जिला शाखा अध्यक्ष डी के सिंगौर ने बताया की कई अध्यापकों एन पी एस खाता नॉन आर आई ए हैं और कई अध्यापकों के प्रान में नामिनी उल्लेखित नहीं है। जिसके चलते उनका वेतन आहरण रोकने की कार्रवाई की जाने वाली है। ऐसे अध्यापकों की सूची संघ ने जारी की है। ट्रायवल के माध्यमिक शिक्षक और उच्च माध्यमिक शिक्षकों के नियुक्ति आदेश डाउन लोड नहीं होने पर संघ प्रयास तेज किये अब आदेश क्रमशः डाउन लोड हो रहे हैं।



-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

Suggested News

Loading...

Advertisement

Popular News This Week

 
-->