Loading...

SHAHDOL COLLECTOR को स्पाइवेयर के नाम पर क्लीनचिट | MP NEWS

भोपाल। शहडोल कलेक्टर अनुभा श्रीवास्तव और डिप्टी कलेक्टर पूजा तिवारी के बीच विवादित चैट जिसमें कलेक्टर की ओर से लिखा गया था कि 'तुम बीजेपी को जिताओ, SDM का चार्ज मिलेगा' की जांच लगभग पूरी हो गई है। बताया जा रहा है कि यह स्पाइवेयर के कारण हुआ था और इस नाम पर कलेक्टर को क्लीनचिट दी जा रही है। 

स्थानीय अखबारों में खबर छपी है कि इस चैट को मोबाइल फोन स्पाय वेयर के जरिए अंजाम दिया गया। स्पाय वेयर के जरिए तिवारी का फोन हैक कर लिया गया था। उल्लेखनीय है कि विधानसभा चुनाव के बाद कलेक्टर और डिप्टी कलेक्टर के बीच भाजपा को जिताने की एक चैट वायरल हुई थी। इसे लेकर काफी बवाल मचा था। इसके बाद तिवारी ने इसकी FIR कराई थी। 

शहडोल के पुलिस अधीक्षक कुमार सौरभ ने बताया कि अब फोन स्पाय वेयर की जांच में सारी बातें स्पष्ट हो सकेंगी। इसके जरिए पूजा के मोबाइल से जिन फोन पर जानकारियां साझा हुईं थीं, वो रामभोला मिश्रा नामक व्यक्ति के पास मिला था। इसी फोन से ये चैट वायरल हुई। इसे वायरल करने का संदेह एक युवक पर है, जो फिलहाल पुलिस गिरफ्त से बाहर है।

जानिए क्या होता है स्पाईवेयर

स्पाइवेयर, मालवेयर का एक प्रकार है जो चुपके से कंप्यूटर या मोबाइल में इंस्टॉल किया जाता है और उपयोगकर्ताओं की जानकारी के बिना उस फोन में दर्ज चैट, मैसेज, फोनबुक, आईडी, पासवर्ड चोरी कर लिया जाता है। स्पाईवेयर सामान्यत: असुरक्षित या अश्लील वेबसाइटों के साथ संलग्न होते हैं। यदि आप अपने मोबाइल या कम्प्यूटर में इन वेबसाइटों को ओपन करते हैं तो स्पाईवेयर या मालवेयर अपने आप इंस्टाल हो जाता है। यह साफ्टवेयर जासूसी के लिए बनाए गए थे, अब डाटा चोरी के लिए उपयोग किए जा रहे हैं।