Loading...

QNet कांड: शाहरुख, अनिल कपूर, युवराज सिंह सहित 500 को नोटिस | BOLLYWOOD NEWS

नई दिल्ली।  हैदराबाद की साइबराबाद पुलिस ने शाहरुख खान, अनिल कपूर और क्रिकेटर युवराज सिंह ( Shah Rukh Khan, Anil Kapoor and cricketer Yuvraj Singh ) समेत 500 लोगों के खिलाफ नोटिस जारी किया है। इन पर आरोप है कि ये भारत में गैरकानूनी घोषित QNet कंपनी से जुड़े हुए हैं और इसका प्रमोशन करते हैं।

साइबराबाद की इकोनॉमिक ऑफेंस विंग ( Economic Offense Wing ) के कमिश्नर ने बताया कि अभिनेत्री पूजा हेगड़े और अल्लू शिरीष ( Pooja Hegde and Allu Shirish ) के खिलाफ भी नोटिस जारी किया गया। एक्टर्स के अलावा कंपनी के डायरेक्टर, शेयरहोल्डर्स और CEO को नोटिस भेजा गया है। 

स्टार्स को देने होंगे जवाब / The stars will have to answer : 

नोटिस में एक्टर्स को एक हफ्ते के अंदर साइबराबाद पुलिस के सामने पेश होने के आदेश दिए गए हैं। इस दौरान उन्हें ये साफ करना है कि वो कंपनी का प्रमोशन क्यों करते हैं और उससे क्यों जुड़े हुए हैं? अगर वो वक्त रहते उपस्थिति दर्ज नहीं कराएंगे तो पुलिस उनके खिलाफ एक्शन लेगी। पुलिस ने QNet कंपनी और विहान डायरेक्ट सेलिंग कंपनी के खिलाफ धोखाधड़ी के कई मामले दर्ज किए हैं और चीटिंग के मामले में कई लोगों को गिरफ्तार भी किया है। 

गैरकानूनी तरीके से कर रही काम / Working illegally : 

दरअसल QNet हॉन्गकॉन्ग ( QNet Hong Kong ) की एक मार्केटिंग कंपनी है। कंपनी ने दावा किया था कि वह विहान सेलिंग फ्रेंचाइजी ( Vihan selling franchisee ) के अंतर्गत भारत में कानूनी तौर पर काम कर रही है, लेकिन जनवरी में साइबराबाद पुलिस ने 58 लोगों को गिरफ्तार किया था। इन सभी पर आरोप थे कि ये गैरकानूनी तरीके से चलाई जा रही इस कंपनी के लिए लोगों को ठगते हैं। 

फिल्म स्टार्स के चेहरे दिखाकर लूटते हैं / Movie stars face showing rob 

पुलिस रिकॉर्ड के मुताबिक QNet कंपनी में करीब 5 लाख लोगों ने निवेश किया हुआ है। कंपनी हेल्थ वेलनेस, ज्वैलरी और इस तरह के दूसरे प्रोडक्टस बेचने के नाम पर लोगों से पैसे लेती है और फिर उन्हें और लोगों को अपने साथ जोड़ने के लिए कहती। ये सब फर्जी प्रोडक्ट होते थे। खाली बिजनेस प्लान बताया जाता था।

लोगों को विश्वास में लेने के लिए हर रविवार और बुधवार को अलग अलग शहरों में हॉल बुक करके 2-3 हजार लोगों को बुलाया जाता उस मीटिंग में बोमन ईरानी, शाहरूख खान और अनिल कपूर जैसे लोगों के फोटो और वीडियो दिखाए जाते हैं और कहा जाता है कि हमारा धंधा सही है। जिन प्रोडक्ट्स को बेचने के नाम पर लोगों को जोड़ा जाता है वह भी एक धोखा है, कंपनी का असली मकसद मनी लांड्रिंग है। 1 डॉलर के प्रोडक्ट को 500 डॉलर में बेचा जाता है। फिर इस पैसे को बाहर भेज दिया जाता है।

देश की आर्थिक व्यवस्था के लिए घातक / Fatal to the country's economic system: 

भारत में कई राज्यों में इस कंपनी के खिलाफ धोखाधड़ी के कई मामले दर्ज हैं। सरकार की रिपोर्ट में इस कंपनी को देश की आर्थिक व्यवस्था के लिए खतरनाक बताया गया है। उसके बावजूद कंपनी अब भी लोगों को फंसाने में लगी हुई है।