LOKSABHA CHUNAV HINDI NEWS यहां सर्च करें




मोदी की सभा में आदिवासी महिला मंत्री से कथित 'डर्टी टच': राजनीति गर्माई | NATIONAL NEWS

12 February 2019

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की शनिवार को त्रिपुरा में हुई एक जनसभा के दौरान भाजपा के राज्यमंत्री मोनोज कांती देव द्वारा भाजपा की ही युवा आदिवासी महिला मंत्री को छूने की घटना ने बवाल मचा दिया है। विपक्षी दलों ने इसे 'डर्टी टच' बताया है। कांग्रेस ने अपना नारा 'भाजपा से बेटी बचाओ' दोहराया है जबकि भाजपा का कहना है कि जब महिला मंत्री ने शिकायत नहीं की तो विपक्षी दल राजनीति क्यों कर रहे हैं। 

सोशल मीडिया पर वीडियो वायरल हुआ

एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ है। इसमें दिखाई दे रहा है कि मंच पर राज्यमंत्री मोनोज कांती देव महिला मंत्री के पीछे खड़े हैं। वो एक कदम बढ़ाकर महिला मंत्री के ठीक पीछे की तरफ आए और हाथ लगाया। महिला मंत्री ने उनका हाथ हटाया। मंत्री मोनोज महिला मंत्री के पीछे कुछ सेकेंड रुके इसके बाद मंत्री मोनोज कांती देव अपने स्थान पर वापस लौट गए। लेफ्ट फ्रंट ने राज्य मंत्री मोनोज कांती देव पर आरोप लगाया है कि उन्होंने मंत्रिमंडल की एक साथी को गलत तरीके से छुआ है और अब उन्हें बर्खास्त किया जाए। 

मंत्री को बर्खास्त कर गिरफ्तार किया जाना चाहिए: विपक्ष

लेफ्ट फ्रंट के संयोजक बिजन धर ने कहा, "जिस मंच से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, मुख्यमंत्री विप्लब कुमार देव और अन्य लोग जनसभा संबोधित कर रहे थे उस मंच पर एक महिला मंत्री को गलत तरीके से छूने के लिए मोनोज कांती देव को बर्खास्त कर गिरफ्तार कर लेना चाहिए। उन्होंने कहा कि सोशल मीडिया पर वायरल हो चुके वीडियो में यह सार्वजनिक रूप से देखा गया कि देव ने समाज कल्याण और सामाजिक शिक्षा मंत्री संतना चकमा की कमर पर हाथ रखा था। चकमा एक युवा आदिवासी नेता हैं। ऐसा ही वीडियो ट्वीट करते हुए महिला कांग्रेस की अध्यक्ष और सांसद सुष्मिता देव ने कहा कि 'बीजेपी से बेटी बचाओ'।

आरोपी मंत्री ने कोई बयान नहीं दिया, भाजपा बचाव में आई

खाद्य, युवा मामले और खेल मंत्रालय देख रहे देव से बात की गई लेकिन उन्होंने इस मामले पर कोई बयान नहीं दिया। बीजेपी प्रवक्ता नबेंदु भट्टाचार्य ने कहा कि बीजेपी सरकार के खिलाफ कोई मुद्दा नहीं मिलने के बाद लेफ्ट फ्रंट ने अब झूठे और बिना मतलब के मुद्दों पर बीजेपी मंत्रियों का चरित्र हनन शुरू कर दिया है। उन्होंने सवाल किया, "महिला मंत्री ने कभी वाम दलों द्वारा उठाए गए मुद्दों पर बयान या शिकायत नहीं की, वाम दल गंदी राजनीति क्यों कर रहे हैं?"।



-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

Suggested News

Loading...

Advertisement

Popular News This Week

 
-->