Loading...

MPPSC 2019: कमलनाथ सरकार ने निर्देश ही नहीं दिए | MP NEWS

इंदौर। एमपी पीएससी की राज्य सेवा परीक्षा 2019 का नोटिफिकेशन जारी नहीं हो सका। इस मामले में अब मध्यप्रदेश की कमलनाथ सरकार नाराज उम्मीदवारों के टारगेट पर आ रही है। पीएससी अगर 10 दिन में नोटिफिकेशन जारी कर आवेदन प्रक्रिया शुरू नहीं कर पाया तो परीक्षा पांच माह के लिए अटक जाएगी। इधर पीएससी सूत्रों का कहना है कि उनकी तैयारी पूरी है परंतु अब तक सरकार ने निर्देश ही जारी नहीं किया। 

इधर, यह जानकारी भी सामने आई है कि राज्य शासन ने निर्देश जारी नहीं किए हैं। जबकि पीएससी के एकेडमिक कैलेंडर अनुसार फरवरी में प्रारंभिक परीक्षा हो जाना थी। इसे लेकर लेकर अभ्यर्थियों ने इसी माह पीएससी के ऑफिस में प्रदर्शन भी किया था। पीएससी ने ढाई साल में राज्य सेवा परीक्षा के सिस्टम में बड़ा सुधार कर पुरानी तमाम परीक्षाएं कर पूरा शेड्यूल पटरी पर ला दिया था, लेकिन यह फिर बिगड़ता दिख रहा है। दरअसल विज्ञापन जारी होने के बाद आवेदन प्रक्रिया में कम से कम एक माह लगता है। 

उसके बाद परीक्षा की तैयारियों, सेंटर तय करने से लेकर अन्य तकनीकी प्रक्रियाएं पूरी होती हैं। परीक्षा के बाद रिजल्ट जारी होने और आपत्तियों के निराकरण सहित अन्य प्रक्रिया में भी महीनाभर लगता है। वहीं, 10-12 दिन में विज्ञापन जारी नहीं हुआ तो जुलाई अंत में प्रारंभिक और अक्टूबर-नवंबर में मुख्य परीक्षा हो पाएगी। ऐसे में इंटरव्यू पूरे होते-होते और नियुक्तियों तक की प्रक्रिया जनवरी 2020 तक पहुंच जाएगी।