LOKSABHA CHUNAV HINDI NEWS यहां सर्च करें




MOBILE में ये APP डाउनलोड मत करना, नहीं तो BANK अकाउंट पूरा साफ हो जाएगा | TECH NEWS

01 February 2019

नई दिल्ली। यदि आपका मोबाइल नंबर आधार कार्ड और आपके बैंक अकाउंट से जुड़ा हुआ है तो सावधान। कम से कम ये मोबाइल एप किसी भी व्यक्ति के कहने पर अपने मोबाइल में डाउनलोड मत करना नहीं तो आपका पूरा बैंक अकउंट साफ हो सकता है। 

MOBILE APP DOWNLOAD BANK ACCOUNT FRAUD

गाजियाबाद में सईद खान कार्स-24 कंपनी में वैल्युएटर (गाड़ियों की कीमत आंकने वाले) हैं। सईद ने बताया कि 16 जनवरी को फेसबुक पर न्यूजफीड में एक क्रेडिट कार्ड का एड दिखा। लाखों की क्रेडिट लिमिट वाले इस कार्ड के एड पर क्लिक कर उन्होंने क्वेरी (पूछताछ) के लिए अपना नंबर डाल दिया। 17 जनवरी को उन्हें फोन आया और कॉलर ने अमेरिकन एक्सप्रेस बैंक के क्रेडिट कार्ड का आफर दिया, जिसकी लिमिट चार लाख रुपये बताई। कॉलर ने सिबिल चेक करने के नाम पर कोटक म​हिंद्रा बैंक का एप्लीकेशन खुलवा लिया। साथ ही उसने उनके नंबर पर मैसेज भेजा, जिसमें एनी डेस्क रिमोट पीसी/मैक कंट्रोल नाम के एप को डाउनलोड करने का लिंक था। क्लिक करते ही एप डाउनलोड हो गया और एप खोलते ही उनके मोबाइल पर कॉलर ने कंट्रोल कर लिया। 

सईद ने बताया कि एप खोलने के तुरंत बाद उनके खाते से 10 हजार रुपये पीएनबी के एक खाते में ट्रांसफर हो गए। वह कॉलर से पैसे वापस करने को कहा तो गालीगलौज करने लगा। वह कुछ समझ पाते खाते से पांच हजार रुपये और निकाल लिए गए। सईद ने तुरंत अपने बैंक एप्लीकेशन का पासवर्ड बदला और कॉल डिसकनेक्ट कर फोन को रीसेट कर दिया। बैंक जाकर पता चला कि रुपये झारखंड स्थित पीएनबी की शाखा के एक खाते में रुपये ट्रांसफर किए गए हैं। 

मुजफ्फरपुर में भी हुई ऐसी ही घटना

ऐसी ही घटना मुजफ्फरपुर में भी हुई हे। फ्रॉड के शिकार सिपाहपुर गांव निवासी मो. शमशाद अंसारी ने अहियापुर थाने में शिकायत की है। उन्होंने बताया कि 22 जनवरी को वे खाते से ऑनलाइन रुपए ट्रांसफर कर रहे थे। ट्रांसफर के पेंडिंग होने पर उन्होंने कस्टमर केयर को फोन लगाया। कुछ देर बाद मोबाइल पर उधर से फोन आया। कस्टमर केयर बताकर मोबाइल पर एक एप डाउनलोड करने के लिए कहा गया। इसके बाद खाते से 82 हजार रुपए उड़ा लिए गए। पुलिस जांच कर रही है। 

ठग कौन सी ट्रिक यूज कर रहे हैं

वो किसी भी तरह से या तो आपको लालच में लेते है या परेशानी की स्थिति में आपसे संपर्क करते हैं। यानी वो आपके संपर्क में तब आते हैं जब आप सामान्य नहीं होते। 
वो किसी भी बहाने से आपको मोबाइल में आपकी बैंक एप्लिकेशन लॉगइन करवाते हैं। 
फिर वो किसी भी तरह से एक लिंक भेजकर आपके मोबाइल पर रिमोट पर लेने वाला साफ्टवेयर डाउनलोड करवा देते थे। 
इस तरह आपका फोन आपके हाथ में होता है परंतु आपके कंट्रोल में नहीं होता। 
यदि आप सजग भी हो जाएं तब भी जब तक आप कोई ए​क्शन कर पाएंगे आपके खाते से रकम ट्रांसफर हो चुकी होगी। 

मोबाइल कंट्रोल करने वाले ठगों से कैसे बचें 

- क्रेडिट कार्ड के लिए आने वाली कॉल को न सुनें
- यदि कॉल उठाते हैं तो कोई जानकारी साझा न करें
- कॉलर द्वारा भेजे गए किसी भी लिंक को क्लिक न करें
- किसी भी संबंध में कंपनी के अधिकृत नंबरों पर ही कॉल करें
- किसी के भी कहने पर अपने मोबाइल में बैंक एप्लीकेशन को न खोलें



-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

Suggested News

Loading...

Advertisement

Popular News This Week

 
-->