डॉ शिवम् सुसाइड केस: सपाक्स ने कैंडल मार्च निकाला, आरोपियों को सस्पेंड करने की मांग | MP NEWS

01 February 2019

भोपाल। सामान्य, पिछड़ा एवं अल्पसंख्यक वर्ग अधिकारी, कर्मचारी संस्था (सपाक्स) तथा सामान्य, पिछड़ा व अल्पसंख्यक वर्ग कल्याण समाज संस्था (सपाक्स समाज) एवं सपाक्स युवा ईकाई द्वारा संयुक्त रूप से प्रदेश भर में सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र चुरहट जिला सीधी के युवा डॉ शिवम् मिश्रा को अनु जाति/ जनजाति प्रताड़ना निवारण अधिनियम 2018 के अन्तर्गत झूठे आरोपों में फंसाए जाने एवं बेवजह पुलिस तथा कुछ साजिशकर्ताओं द्वारा प्रताड़ित तथा ब्लैकमेल किए जाने के परिणाम स्वरूप उनके द्वारा दिनांक 27.01.2018 को की गई आत्महत्या के विरोध में केंडल मार्च निकालकर विरोध प्रदर्शन किया गया तथा दिवंगत आत्मा को श्रद्धांजलि दी गई।

सपाक्स समाज मांग करता है कि ऐसे काले कानून को तत्काल प्रभाव से समाप्त किया जावे जिसका बहुतायत में मात्र दुरुपयोग होता है तथा न सिर्फ कोई मासूम परेशान होता है बल्कि उस पर आश्रित पूरा परिवार उजड़ता है। संस्था द्वारा दोषी आरोपियों तथा पुलिस अधिकारी को तत्काल निलंबित करने, प्रकरण की न्यायायिक जांच कराने, श्री मिश्रा के आश्रित परिजनों को रू. 1.00 करोड़ की आर्थिक मदद तथा परिवार के एक सदस्य को अनुकम्पा नियुक्ति देने की मांग मान मुख्यमंत्री जी से की गई।

संस्था द्वारा महामहिम राष्ट्रपति, मान प्रधानमंत्री, मान चेयरमैन मानवाधिकार आयोग, मान मुख्य न्यायधीश, सर्वोच्च न्यायालय को भी ऐसे मानवाधिकारों का सर्वथा उल्लंघन करने वाले कानूनों को तत्काल समाप्त किए जाने हेतु भी लिखा जावेगा। प्रकरण में यदि न्यायपूर्ण कार्यवाही शासन द्वारा तत्काल नहीं की जाती है तथा आरोपियों को तत्काल गिरफ्तार कर निलंबन नहीं किया जाता है तो संस्था समयबद्ध रूप से प्रदेश भर में विरोध कार्यक्रम एवं जन जागृति अभियान चलाएगी।



-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

;
Loading...

Popular News This Week

 
-->