Loading...

KIM INFRASTRUCTURE: डायरेक्टरों के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज | BUSINESS NEWS

जसपुर। KIM INFRASTRUCTURE AND DEVELOPERS LIMITED के 2 डायरेक्टरों के खिलाफ धोखाधड़ी का आपराधिक मामला दर्ज किया गया है। आरोप है कि कंपनी संचालकों ने बैंक (BANK) की तुलना में ज्यादा ब्याज देने वाली एफडी व आरडी योजनाएं (FD AND RD SCHEME) संचालित कीं एवं 6 करोड़ रुपए लेकर फरार हो गए। ऐसी कंपनियों को बोलचाल की भाषा में चिटफंड कंपनी भी कहा जाता है। 

ग्राम गूलरगोजी निवासी जितेंद्र चौधरी पुत्र मनोहर सिंह ने कोतवाली में दर्ज कराई रिपोर्ट में कहा है कि वर्ष 2011 में अमृतसर निवासी रविंद्र सिद्धू पुत्र अवतार सिद्धू ने जसपुर निवासी दीपक देशमुख के साथ मिलकर काशीपुर रोड पर नौमी मंदिर के पास किम इंफ्रास्ट्रक्चर एंड डेवलपर्स नाम से कंपनी खोली थी। कंपनी के जगमोहन, गगनदीप, खजान सिंह भी संचालक थे। आरोप है कि इन लोगों ने कंपनी चलाकर बचत योजनाओं के नाम पर लोगों की आरडी एवं एफडी जमा कराई एवं बैंक की तुलना में करीब दोगुना ब्याज देने का वादा किया। 

इन योजनाओं में कंपनी के प्रबंधकों को खाताधारकों का करीब छह करोड़ रुपये वापस करना था। इसमे अकेले 25 लाख रुपये उसने जमा कराया था। प्रबंधकों ने कंपनी की परिपक्वता तिथि पूरी होने के बाद भी रकम को वापस नहीं किया और खाताधारकों को झांसा देते रहे। नवंबर में कंपनी के प्रबंधक दफ्तर में ताला लगाकर भाग गए। कपंनी संचालकों ने उसका 25 लाख समेत करीब छह करोड़ रुपये का लोगों को चूना लगाया। कोतवाल अबुल कलाम ने बताया कि दो लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी गई है।