LOKSABHA CHUNAV HINDI NEWS यहां सर्च करें




मध्यप्रदेश : सौगातों की बारिश | EDITORIAL by Rakesh Dubey

08 February 2019

आज से मध्यप्रदेश में लोकसभा चुनाव प्रचार की शुरूआत होने जा रही है। शुरुआत कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गाँधी  प्रदेश में कांग्रेस की सरकार बनने के पार्टी की भोपाल में आज  होने वाली सभा से है | राहुल गांधी किसान आभार सम्मेलन में भाग लेंगे | वैसे भी  इन दिनों मध्यप्रदेश के मतदाताओं पर राज्य और केंद्र दोनों ही सरकारें सौगातो की बरसात करने मे लगी हैं | दोनों का लक्ष्य लोकसभा चुनाव है | कांग्रेस की भोपाल में होने वाले  इस आभार सम्मेलन के जवाब में   भाजपा अपने चुनाव अभियान की शुरूआत १५  फरवरी को होशंगाबाद से करने जा रही है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी १५  फरवरी को होशंगाबाद में सभा कर इसकी शुरुआत करेंगे। इसके बाद १६  फरवरी को वे धार में जनसभा को संबोधित करेंगे। कांग्रेस ने सौगातों की होड़ में अब सामाजिक सुरक्षा पेंशन घर के दरवाजे तक पहुचाने का निर्णय लिया है | इस बरसते सौगात कार्यक्रम में पार्टी और मध्यप्रदेश की सरकार चर्वाक दर्शन का पालन भी कर रही है | कर्जा लेकर भी सौगातों की वाहवाही |

आज भोपाल के जंबूरी मैदान में होने वाली सभा को कांग्रेस का शक्ति प्रदर्शन भी कहा जा सकता  के लिए मुख्यमंत्री कमलनाथ ने मंत्रियों, विधायकों और बाकी के सभी नेताओं को दो लाख किसानों को लाने का टारगेट दिया है। इसके अलावा ज्यादा से ज्यादा लोग भोपाल आएं इसके लिए भी कहा गया है। मंत्रियों ने भीड़ जुटाने के लिए प्रदेशभर के दौरे किए हैं। प्रदेश कांग्रेस कार्यालय में भी आज होने जा रहे  राहुल गांधी के दौरे की सफलता के लिए तीन-चार  बैठक हो चुकी हैं।  वैसे इन दिनों भाजपा का खजाना खाली है| पार्टी आर्थिक संकट के दौर से गुजर रही है | १५ सालों तक पार्टी को पोषित करने वाले भामाशाहों ने अपना मुंह और हाथ कांग्रेस की तरफ घुमा लिया है | होशंगाबाद और में प्रधानमंत्री की सभा में भी प्रधानमंत्री सौगातों की बारिश करने वाले हैं |


आज भोपाल के जम्बूरी मैदान में राहुल गांधी किसानों के साथ संवाद के बहाने करने के साथ-साथ उन्हें संबोधित भी करेंगे। इस सम्मेलन में पूरे प्रदेश के किसान भोपाल बुलाये गए हैं और इसे  राज्य सरकार द्वारा जय किसान ऋण माफी योजना लागू करने के लिए राहुल का अभिनंदन कार्यक्रम कहा गया है | चुनावी सालों में ऐसे कार्यक्रम आम बात है |वैसे प्रदेश सरकार ने जय किसान ऋण माफी योजना के तहत करीब ५५ लाख किसानों के दो लाख रूपए के कर्ज को माफ करने का फैसला किया है। इस पर लगभग ५०००० करोड़ रूपये खर्च आएगा और २२  फरवरी से किसानों के खाते में राशि भेजी जाने का दावा मुख्यमंत्री कमलनाथ ने किया है। प्रश्न यह राशि कहाँ से आएगी खड़ा हुआ है |

इसी सबके चलते मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कल पेंशन हितग्राहियों के लिए 'आपकी पेंशन-आपके द्वार' व्यवस्था प्रारंभ करने के निर्देश दिये हैं। उन्होंने सामाजिक न्याय एवं पेंशन वितरित करने वाले सभी संबंधित विभागों को निर्देशित किया है कि, समस्त सामाजिक सुरक्षा पेंशनों के वितरण की सुगम व्यवस्था बनाएँ। इससे हितग्राहियों को बैंकों में  पेंशन राशि निकालने में किसी भी तरह की समस्या का सामना न करना पड़े। मुख्यमंत्री ने सभी जिला कलेक्टर्स को साफतौर पर ऐसी सुगम व्यवस्था स्थापित करने के निर्देश दिए हैं कि,जिले के  पेंशनधारियों को अपनी पेंशन निकालने के लिए भटकने की आवश्यकता न पड़े। पेंशन उनके घरों तक पहुँचें। पिछली सरकारें ये पेंशन अहसान के रूप में दिया करती थी | हितग्राही भटकते रहते थे | यह योजना पेंशन भोगियों के सम्मान की रक्षा कर  सकती है |  अब बारी भाजपा की  है उसके पिटारे से भी क्या सौगात निकलेगी ?
देश और मध्यप्रदेश की बड़ी खबरें MOBILE APP DOWNLOAD करने के लिए (यहां क्लिक करेंया फिर प्ले स्टोर में सर्च करें bhopalsamachar.com
श्री राकेश दुबे वरिष्ठ पत्रकार एवं स्तंभकार हैं।
संपर्क  9425022703        
rakeshdubeyrsa@gmail.com
पूर्व में प्रकाशित लेख पढ़ने के लिए यहां क्लिक कीजिए
आप हमें ट्विटर और फ़ेसबुक पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।



-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

Suggested News

Loading...

Advertisement

Popular News This Week

 
-->