किसान कर्ज माफी के लिए पैसे कहां से आएंगे मुझे मालूम है: सीएम कमलनाथ | MP NEWS

16 January 2019

भोपाल। मध्य प्रदेश की कांग्रेस सरकार (MP Government) के मुख्यमंत्री कमलनाथ (CM KAMAL NATH) ने किसानों कर्ज माफी (KISAN KARJ MAFEE) को लेकर भाजपा के सवालों का जवाब देते हुए कहा कि मुझे मालूम है कि किसान कर्ज माफी के लिए पैसा कहां से आएगा। भाजपा को चिंता करने की जरूरत नहीं है। बता दें कि भाजपा ने लेखा जोखा पेश करते हुए पूछा है कि जबकि मध्यप्रदेश पर 1.87 लाख करोड़ रुपए का कर्ज है और अब 7000 करोड़ से ज्यादा कर्ज मिल नहीं सकता तो लोन माफी के लिए 55000 करोड़ रुपए कहां से आएगा। 

बुधवार को मुख्यमंत्री कमलनाथ ने एक कार्यक्रम से इसकी औपचारिक शुरुआत की। इस दौरान मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कर्ज माफी को लेकर उठ रहे सवालों का भी जवाब दिया। उन्होंने कहा कि कर्जमाफी ( Farmers Loan waiver) कैसे की जाएगी और इसके लिए पैसे कहां से आएंगे इसका इंतजाम पांच महीने पहले से ही शुरू कर दिया गया था। 

मध्य प्रदेश सरकार (MP Government) ने किसानों के ऋण माफी योजना का नाम जय किसान ऋण मुक्ति योजना रखा है। इस योजना के तहत राज्य में 26 बैंकों की साढ़े सात हजार ब्रांच किसानों की कर्जमाफी में जुटे हैं। सरकार (MP Government) का कहना है योजना से 55 लाख किसानों को फायदा मिलेगा। सरकार उनके 55 हजार करोड़ रुपये का कर्जा माफ होगा। इस मौके पर 12 किसानों को कर्जमाफी का सर्टिफिकेट भी दिया गया। कर्जमाफी को लेकर आयोजित कार्यक्रम में आए उधम सिंह पर ढाई लाख का कर्ज़ था।

अनुपूरक बजट में कर्जमाफी के लिये 5000 करोड़ का प्रावधान है, जबकि योजना के लिये 55,000 करोड़ रुपये से ज्यादा की रकम चाहिए। मध्यप्रदेश के सकल घरेलू उत्पाद के मुकाबले उसका सकल मौद्रिक घाटा 3.3% के आसपास है। एफआरबीएम के नियमों की सीमा से 0.2% ज्यादा है। मोटा-मोटी गणित के हिसाब से सरकार और 7000 करोड़ का कर्ज जुगाड़ सकती है वो भी तब जब 2018-19 में राज्य पर कर्ज़ा 1,87,636 करोड़ का है जिसके लिये 12,867 करोड़ ब्याज चुकाना होता है। ऐसे में विपक्ष कह रहा है कर्जमाफी ढकोसला है। 



-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

;
Loading...

Popular News This Week

 
-->