Advertisement

खबर का असर: सीएम और पूर्व सीएम दोनों को बयान जारी करना पड़े | MP NEWS



भोपाल। BHOPAL SAMACHAR DOT COM की खबर का एक फिर भी असर नजर आया है। 'वंदे मातरम' मामले में सीएम कमलनाथ और पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को देर रात बयान जारी करने पड़े। बता दें कि भोपाल समाचार ने शाम 5 बजे न्यूज पोस्ट की थी कि 'वंदे मातरम' पर अब तक किसी भी जिम्मेदार ने बयान जारी नहीं किया है। (पढ़िए: मप्र मंत्रालय में 'वंदे मातरम' बंद, SHIVRAJ-KAILASH सहित BJP दिग्गज चुप)

क्या है विवाद
मध्यप्रदेश में भाजपा सरकार के गठन के साथ ही मंत्रालय में हर माह की 1 तारीख को पुलिस बैंड के साथ 'वंदे मातरम' का गायन किया जाता था जिसमें सभी कर्मचारी उपस्थित रहते थे परंतु सरकार बदलते ही 'वंदे मातरम' बंद हो गया। यह किसके आदेश पर हुआ, स्पष्ट नहीं किया गया। चौंकाने वाली बात यह है कि भाजपा के दिग्गज नेता शिवराज सिंह चौहान, कैलाश विजयवर्गीय, राकेश सिंह सहित लगभग सभी चुप हैं। किसी ने कोई प्रतिक्रिया भी नहीं दी। 

असर क्या हुआ
शाम 5:30 बजे न्यूज पोस्ट की गई थी। रात 11 बजे सीएम कमलनाथ ने बयान जारी कर स्वीकार किया कि उनके आदेश पर 'वंदे मातरम' का गायन स्थगित किया गया था। हम नए सिरे से आदेश जारी करेंगे। इसके 40 मिनट बाद रात 11:43 बजे पूर्व सीएम शिवराज सिंह का बयान आया और उन्होंने 'वंदे मातरम' आंदोलन का ऐलान किया।