शिवराज ने झूठ बोला! | सीईओ ने कहा: मेरे पास कोई आवेदन नहीं आया था | MP NEWS

07 December 2018

भोपाल। सीएम शिवराज सिंह चौहान सपने दिखाते हैं, वादे करते हैं और कई बार पूरे नहीं कर पाते यह तो अक्सर होता है परंतु क्या वो सफेद झूठ भी बोलते हैं। पिछले दिनों उन्होंने चुनाव आयोग को 'अमानवीय' करार देते हुए बताया था कि 'आयोग ने मुझे अपने साथी के अंतिम संस्कार में नहीं जाने दिया' इस मामले में सीईओ व्हीएल कांताराव का कहना है कि उनके पास ऐसा कोई आवेदन ही नहीं आया था। 

क्या कहा था कि सीएम शिवराज सिंह ने
सीएम शिवराज सिंह ने कैबिनेट मीटिंग के तत्काल बाद प्रेस को संबोधित करते हुए कहा था कि चुनाव आयोग ने मेरे साथ भी अमानवीयता की। विदिशा के मेरे साथी भाजपा कार्यकर्ता रघुवीर दांगी के अंतिम संस्कार में जाने से रोका गया। 

सीईओ कांताराव ने क्या कहा
सीएम शिवराज सिंह के इस बयान के बाद निर्वाचन आयोग मप्र के मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी (सीईओ) वीएल कांताराव ने प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि उन्हें इस संबंध में कोई लिखित आवेदन नहीं मिला कि सीएम को वहां जाना है। 

क्या सीएम को अंत्येष्टि में जाने से रोका गया?
27 नवंबर को चुनाव आयोग के मुख्य चुनाव आयुक्त रहे ओपी रावत ने भी कहा है कि ऐसा तो कुछ नहीं हुआ। आयोग कभी ऐसा नहीं करता। वह निष्पक्ष और बिना भेदभाव के काम करता है। नियम है कि ऑफिशियल ड्यूटी पर जाया जाए तो तुरंत वापस आना होता है। वह कोई पब्लिक मीटिंग नहीं कर सकता। सिर्फ प्रधानमंत्री ऑफिशियल ड्यूटी के साथ सभा कर सकते हैं। मुख्यमंत्री यदि जाते तो उन्हें तुरंत भोपाल लौटना होता। जहां तक जाने की मंजूरी देने का प्रश्न है तो यह काम सीईओ का है।

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

Loading...

Popular News This Week

 
-->