Advertisement

शिक्षकों को एरियर भुगतान में साफ्टवेयर बाधा बना, अब सीएम से हस्तक्षेप की उम्मीद | EMPLOYEE NEWS


भोपाल। शिक्षा विभाग ने तीस वर्ष सेवाकाल पूर्ण करने वाले शिक्षकों को जुलाई 2014 से तृतीय क्रमोन्न्नत वेतनमान के आदेश 25/10/2017 को जारी किए गए। इनके पालन में प्रदेश में शिक्षकों को तृतीय क्रमोन्न्नत वेतनमान में नियमित तो किया गया लेकिन देय एरियर में सॉफ्टवेयर बाधा बना हुआ है। 

सॉफ्टवेयर के कारण एरियर भुगतान नहीं हो पा रहा है। प्रदेश के नवागत मुख्यमंत्री श्री कमलनाथ जी हस्तक्षेप कर वित्त विभाग को आदेशित करने का कष्ट करें कि साफ्टवेयर विकसित किया जावे तब तक परंपरागत बिल मान्य कर देय एरियर का भुगतान सुनिश्चित करवाए। 

एरियर भुगतान में विलंब को लेकर शिक्षकों में गहरी नाराजी व्याप्त है। नाराजी भी वाजिब है क्योंकि 14 माह पुराने आदेश का पालन जो नहीं हो पा रहा है।
कन्हैयालाल लक्षकार 
प्रांतीय उपाध्यक्ष 
मप्र तृतीय वर्ग शास कर्म संघ