2019 का वार्षिक राशिफल, वैदिक ज्योतिष पर आधारित | ANNUAL HOROSCOPE of 2019 | VARSHIK RASHIFAL

30 December 2018

नया साल 2019 शुरू हो गया है। देश की प्रसिद्ध ज्योतिष बेवसाइट astrosage के विशेषज्ञों ने राशिफल जारी कर दिया है। astrosage का कहना है कि यह वर्षफल वैदिक ज्योतिष पर आधारित है। इस वार्षिक राशिफल में नौकरी, व्यवसाय, धन, शिक्षा और स्वास्थ्य जीवन से जुड़ी भविष्यवाणी शामिल की गई हैं। आइए पढ़ते हैं देश के ज्योतिष विद्वानों ने 12 राशियों के लिए क्या भविष्यवाणी की है। 

मेष: वैदिक ज्योतिष के अनुसार मेष राशि का चिह्न आपकी राशि का स्वामी मंगल 12 जुलाई से 22 अक्टूबर के मध्य अस्त रहेगा। इस दौरान आपको कोई महत्वपूर्ण निर्णय लेने से बचना चाहिए और इस दौरान विशेष रूप से भावावेश में आकर कोई कार्य न करें। भाग्य स्थान का स्वामी बृहस्पति 30 मार्च से 22 अप्रैल के मध्य और उसके बाद 5 नवंबर से आपके भाग्य स्थान में आकर आप को समर्थन देगा और आपके भाग्य की वृद्धि होगी। 16 जुलाई को पड़ने वाला चंद्र ग्रहण और 26 दिसंबर को पड़ने वाला सूर्य ग्रहण आपकी राशि के लिए अधिक शुभ नहीं है। इसके परिणाम स्वरूप आपके पिता के स्वास्थ्य और करियर पर कुछ प्रतिकूल प्रभाव पड़ सकता है, इसलिए मन लगाकर कार्य करें और पिताजी की सेहत का ध्यान रखें।

वर्ष 2019 के राशिफल के अनुसार मेष राशि के जातकों का स्वास्थ्य जीवन अस्थिर रह सकता है। इसमें आपको मिश्रित परिणाम मिलेंगे। हालाँकि अपनी सेहत के प्रति आप संजीदा रहेंगे इसलिए साल की शुरुआत में आपको स्वास्थ्य लाभ मिलेगा। इस दौरान छोटे-मोटे तनाव को छोड़ दिया जाए तो आपकी सेहत दुरुस्त रहेगी। इस वर्ष आपको करियर में मिलेजुले परिणाम मिलेंगे। आप अपने उत्कृष्ट प्रयासों से उन्नति करेंगे। आपकी नौकरी में पदोन्नति की संभावना है। करियर को आगे ले जाने में किस्मत भी आपका भरपूर साथ देगी। साल की शुरुआत से ही आप अपने कार्य में जमकर मेहनत करेंगे जिसका आगे चलकर आपको लाभ मिलेगा। आर्थिक स्थिति में उतार-चढ़ाव की परिस्थितियाँ नज़र आएंगी। साल की शुरुआत में आपकी आर्थिक स्थिति मजबूत तो रहेगी परंतु इस समय आपके ख़र्चों में वृद्धि होगी। अचानक अनावश्यक ख़र्चों की संख्या बढ़ जाएगी। यदि इस पर कंट्रोल नहीं किया गया तो यह आपको आर्थिक संकट की ओर ले जा सकती है। साल के मध्य (जून-जुलाई) में आपका क़ारोबार गति पकड़ेगा जिससे आपको आर्थिक लाभ होगा। प्रेम जीवन कोई ख़ास बदलाव नहीं आएगा। अपने रिश्ते को ख़ास बनाए रखने के लिए आपको प्रेम में पारदर्शिता लानी होगी।

वृषभ: वैदिक ज्योतिष के अनुसार वृष राशि का चिह्न शनि आपकी राशि से अष्टम भाव में रहेंगे इसलिए आपको अपने स्वास्थ्य का विशेष ध्यान रखना चाहिए। कार्यक्षेत्र में मेहनत करते रहने के अनुकूल परिणाम आने वाले समय में अवश्य प्राप्त होंगे। 16 जुलाई का चंद्र ग्रहण आपके लिए शुभ फलदायक रहेगा और आपको प्रत्येक क्षेत्र में सफलता मिलेगी। वहीं 26 दिसंबर का सूर्य ग्रहण आपके लिए अच्छा नहीं रहेगा और मानसिक चिंताओं को बढ़ाने वाला सिद्ध होगा।आपकी राशि का स्वामी शुक्र 16 अप्रैल से 10 मई के मध्य 11 वे भाव में गोचर करेगा जो आपके लिए अनेक प्रकार की सुख सुविधाओं और आमदनी को बढ़ाने वाला सिद्ध होगा। इसके अतिरिक्त आपके जीवन में प्रेम और रोमांस का संचार होगा। 9 जुलाई से 19 सितंबर के मध्य शुक्र के अस्त रहने पर स्वास्थ्य का ध्यान रखें।

वृषभ राशिफल के अनुसार इस वर्ष आपका स्वास्थ्य जीवन थोड़ा कमज़ोर रह सकता है, इसलिए इस वर्ष सेहत के प्रति आपको अधिक गंभीर रहने की आवश्यकता होगी। अपने ख़ान-पान पर विशेष ध्यान दें। स्वस्थ्य भोजन ही ग्रहण करें। भविष्यकथन के अनुसार इस वर्ष आपको कोई दीर्घकालिक रोग हो सकता है। इस वर्ष के शुरुआती दौर में करियर में मुश्किलों का सामना करना पड़ सकता है। करियर में उतार-चढ़ाव की परिस्थितियाँ आएंगी और अच्छे परिणामों को पाने के लिए आपको कड़ी मेहनत करनी होगी। हालांकि इस वर्ष आप अपने करियर को लेकर अधिक गंभीर नज़र आएंगे और करियर में अपना मुकाम पाने के लिए जीतोड़ मेहनत भी करेंगे। आर्थिक जीवन सामान्य से बेहतर रहेगा। आपकी आर्थिक स्थिति में सुधार तो होगा परंतु आपके ख़र्चों में भी वृद्धि की संभावना है। यदि आपने बेवज़ह के ख़र्चों पर लगाम नहीं लगाया तो आपकी आर्थिक स्थिति गड़बड़ा सकती है। वैसे इस वर्ष आपकी आमदनी में भी वृद्धि होगी। आय के नए स्रोतों का सृजन होगा। अप्रैल के मध्य से मई के मध्य तक आपकी आर्थिक स्थिति मजबूत होगी और जून में भी यह सिलसिला जारी रहेगा।

मिथुन: वैदिक ज्योतिष के अनुसार मिथुन राशि का चिह्न शनि का गोचर आपके सप्तम भाव में रहने से दांपत्य जीवन में कुछ तनाव बना रह सकता है लेकिन 30 मार्च से बृहस्पति का गोचर सप्तम भाव में होने से इस स्थिति में कुछ सुधार होगा और जो लोग अविवाहित हैं उनके विवाह के योग बनेंगे साथ ही व्यवसायिक साझेदारी से लाभ होगा। 17 अगस्त को सूर्य का सिंह में होने वाला गोचर जीवन में सकारात्मक परिणाम लेकर आएगा और आपको अपने कार्य वक्री रहेगा। इसके बाद 8 जुलाई से 1 अगस्त और 31 अक्टूबर से 21 नवंबर के मध्य भी बुध का वक्री गोचर होगा। इस दौरान आपको अपनी वाणी पर नियंत्रण रखना होगा अन्यथा रिश्तों और कार्यों में बाधा उत्पन्न होगी और आपके व्यवसाय में हानि हो सकती है। 16 जुलाई का चंद्र ग्रहण आपके लिए शुभ फलदाई सिद्ध होगा।

मिथुन के भविष्यफल के अनुसार इस वर्ष आपको स्वास्थ्य लाभ मिलेगा। हालांकि कभी-कभार छोटी-मोटी स्वास्थ्य संबंधी परेशानियों से आपका सामना होगा। परंतु साल के प्रारंभ यानी जनवरी में आपको अपनी सेहत को लेकर थोड़ा सावधान रहना होगा। इस समय आपको स्किन से संबंधित परेशानी का सामना करना पड़ सकता है। यह साल आपके करियर के लिए सामान्य रहने का संकेत दे रहा है। हालांकि यदि आप कड़ी मेहनत करते हैं तो यह साल आपके करियर के लिए अच्छा हो सकता है। आपको अपने काम में पूरा फोकस करना होगा। करियर में आगे बढ़ने के लिए आपको नए-नए विचारों को सृजन करना होगा। वरिष्ठ कर्मियों की सलाह भी आपके काम आएगी। इस वर्ष आपको आर्थिक जीवन में कोई बड़ी उपलब्धि हासिल होगी। आर्थिक लाभ के योग बन रहे हैं। व्यापार में नए-नए आइडिया आपके आर्थिक लाभ को बढ़ाने में मदद करेंगे। इस वर्ष आप धन एकत्रित करने में सफल रहेंगे। हालांकि बिजनेस के विस्तार हेतु आपको घर से दूर जाना पड़ सकता है। आपको आर्थिक जीवन में कोई बड़ी उपलब्धि हासिल होगी। आर्थिक लाभ के योग बन रहे हैं। व्यापार में नए-नए आइडिया आपके आर्थिक लाभ को बढ़ाने में मदद करेंगे।

कर्क: वैदिक ज्योतिष के अनुसार कर्क राशि का चिह्न आपकी राशि के लिए शनि का गोचर छठे भाव में रहेगा जिसके कारण प्रतियोगी परीक्षाओं में सफलता मिलेगी और आप अपने विरोधियों पर हावी रहेंगे। 30 मार्च को बृहस्पति के इसी भाव में आने के बाद आपके खर्चों में वृद्धि हो सकती है और आप सामाजिक सरोकार के कार्यों में बढ़ चढ़कर हिस्सा लेंगे। ग्रहों की स्थिति आपके दांपत्य जीवन में तनाव बनाए रखेगी लेकिन अपनी समझ बूझ के चलते आप हर समस्या का समाधान प्राप्त कर लेंगे। वर्ष की शुरुआत से 30 मार्च तक का समय शुभ रहेगा और इसके बाद 22 अप्रैल से 5 नवंबर के मध्य हुई आपके काम बनेंगे। विद्यार्थियों को शिक्षा के क्षेत्र में अच्छे परिणामों की प्राप्ति होगी और संतान प्राप्ति के इच्छुक दंपतियों की इच्छा पूरी होगी।

कर्क के फलकथन के अनुसार आर्थिक मामलों और करियर के लिए यह साल कर्क राशि के जातकों के लिए शानदार रहने वाला है। हालांकि स्वास्थ्य के मोर्चे पर सावधान रहने की जरुरत होगी। क्योंकि इस साल आपकी सेहत में उतार-चढ़ाव देखने को मिल सकते हैं। वहीं बात अगर करें आपके करियर की, तो इस साल नौकरी पेशा जातकों को पदोन्नति की सौगात मिल सकती है। फरवरी से मार्च और नवंबर से दिसंबर के बीच आपको नौकरी व व्यवसाय में शुभ समाचार की प्राप्ति हो सकती है। वहीं मार्च के बाद आप किसी नये व्यवसाय की शुरुआत कर सकते हैं या आप जो बिजनेस कर रहे हैं उसका विस्तार कर सकते हैं। अब बात करते हैं आपके आर्थिक जीवन की, इस साल आपका आर्थिक पक्ष बेहद अच्छा रहने वाला है। क्योंकि इस वर्ष धन लाभ के कई योग बन रहे हैं। मार्च, अप्रैल और मई के महीने धन से जुड़े मामलों के लिए शानदार रहने वाले हैं। इस दौरान आमदनी बढ़ने और धन लाभ होने से आपकी आर्थिक स्थिति मजबूत होगी और सामाजिक प्रतिष्ठा में वृद्धि होगी। धन लाभ के साथ-साथ इस वर्ष आपको धन हानि भी हो सकती है। इसलिए फरवरी से लेकर मार्च के शुरुआती सप्ताह तक धन व पूंजी निवेश संबंधित योजनाएं संभलकर बनाएं।

सिंह: वैदिक ज्योतिष के अनुसार सिंह राशि का चिह्न आपकी राशि का स्वामी सूर्य 14 अप्रैल को मेष राशि में प्रवेश करेगा। इस दौरान आपके मान-सम्मान में वृद्धि होगी और उच्च शिक्षा प्राप्ति की कामना रखने वाले लोगों को सफलता मिलेगी। हालांकि इस समय में आपके पिताजी का स्वास्थ्य कुछ कमजोर रह सकता है अथवा आपसे उनके संबंधों में खटास आ सकती है। 16 दिसंबर से सूर्य का गोचर धनु राशि में शनि के ऊपर होने से आपके अंदर इरिटेशन बढ़ेगी और स्वास्थ्य की समस्याएं आपको परेशान कर सकते हैं। दिसंबर में सूर्य ग्रहण पड़ेगा जो कि आपकी राशि का स्वामी है इसलिए आपको किसी भी प्रकार के वाद-विवाद से बचना चाहिए और किसी षड्यंत्र में पड़ने से भी बचना चाहिए अन्यथा मानहानि की संभावना हो सकती है।

इस वर्ष आपका स्वास्थ्य जीवन अच्छा रहेगा। साल के शुरुआती महीनों में आपको सर्दी-जुकाम की शिकायत रह सकती है। आपको शारीरिक थकान एवं ऊर्जा की कमी महसूस होगी। हालांकि फरवरी मध्य से आपको स्वास्थ्य लाभ मिल सकेगा। करियर में सफलता पाने के लिए आप लगातार मेहनत करेंगे। करियर में आपको सफल परिणाम मिलेंगे, परंतु इन परिणामों से आप संतुष्ट नहीं दिखेंगे। कार्यक्षेत्र में आपका परिश्रम आपको नई पहचान दिलाएगा। आपको नई जगह नौकरी करने का भी अवसर मिलेगा। साल की शुरुआत में आपको करियर क्षेत्र में बेहतर परिणाम मिलेंगे। इस साल आपको आर्थिक जीवन में छोटी-मोटी चुनौतियों का सामना करना पड़ेगा परंतु इसके बावजूद भी आपको बहुत बढ़िया परिणाम भी मिलेंगे। आपकी आर्थिक स्थिति मजबूत होगी। जनवरी को छोड़ दिया जाए तो फरवरी-मार्च और अप्रैल में आपको धन हानि हो सकती है। इस वर्ष आपका प्रेम जीवन चुनौतीपूर्ण लग रहा है, इसलिए आपको इस साल ज़्यादा सावधान रहने की आवश्यकता होगी। लव पार्टनर के साथ किसी बात को लेकर अनबन हो सकती है अथवा किसी ग़लतफ़हमी के कारण भी रिश्तों में खटास आने की संभावना है।

कन्या: वैदिक ज्योतिष के अनुसार कन्या राशि का चिह्न कन्या राशि के जातकों को 30 मार्च से 22 अप्रैल के मध्य कोई खुशख़बरी मिलेगी। इस दौरान आपको अपना घर प्राप्त होने के भी अच्छे योग हैं। 5 नवंबर के बाद जो लोग विदेश में रहते हैं उनके घर लौटने की आस जगेगी। परिवार को समय देंगे और माता पिता का सम्मान करेंगे। जुलाई के महीने में लगने वाला चंद्र ग्रहण आपके लिए अच्छे परिणामों की ओर इशारा कर रहा है। आपके करियर में तरक्की मिलेगी और पदोन्नति होने की अच्छी संभावना बनेगी। वहीं दूसरी ओर दिसंबर का सूर्य ग्रहण आपको परेशान कर सकता है और इस दौरान आपको अपने काम में पूर्ण रुप से ध्यान लगाना होगा अन्य जरा अन्यथा जरा सी चूक आपको बड़ी परेशानी में डाल सकती है।

कन्या राशिफल 2019 के अनुसार इस वर्ष आपके स्वास्थ्य जीवन में उतार चढ़ाव की परिस्थितियाँ आएंगी। इस साल आपको स्वास्थ्य जीवन में मिश्रित परिणाम मिलेंगे। जैसे कि स्वास्थ्य लाभ के साथ-साथ आपकी सेहत में भी कमी देखी जा सकेगी। आपको करियर में मिलजुले परिणाम मिलेंगे। इस क्षेत्र में कई मौक़े आएंगे जिनमें आपको निराश होना पड़ सकता है, वहीं कई मौक़े ऐसे भी होंगे जिनमें जिसमें आपको सफलता का स्वाद मिलेगा। अपनी कुशल संवाद शैली के माध्यम से आप करियर में तरक्की करेंगे। आपका आर्थिक जीवन सामान्य से बेहतर रहेगा और साल की शुरुआत से ही आपको इसका आभास होने लगेगा। जनवरी-फरवरी और मार्च में आपको विभिन्न स्रोतों से आमदनी प्राप्त होगी, परंतु इस समय आपके ख़र्चों में भी वृद्धि की संभावना है। हालांकि परिस्थितियां फिर भी आपके काबू में रहेंगी। इस साल आपके प्रेम जीवन के लिए मिलाजुला रहेगा। इसमें आपको उतार-चढ़ाव दोनों ही देखने को मिलेंगे। प्रेम जीवन के लिए साल की शुरुआत कुछ ख़ास नहीं है। इस समय आपको प्रेमजीवन में चुनौतियों का सामना करना पड़ सकता है। नौकरी/व्यवसाय के कारण आपको घर से दूर भी जाना पड़ सकता है।

तुला: वैदिक ज्योतिष के अनुसार तुला राशि का चिह्न तुला राशि का स्वामी शुक्र वर्ष की शुरुआत में ही 1 जनवरी को वृश्चिक राशि में गोचर करेगा इस दौरान आपके परिवार में कोई शुभ कार्य फंक्शन आदि होने की संभावना होगी जिससे घर के सभी सदस्य प्रसन्न रहेंगे। 9 जुलाई से 19 सितंबर के मध्य कोई भी शुभ कार्य ना करें क्योंकि इन में परेशानी आ सकती है और आपका स्वास्थ्य भी कमजोर है सकता है। जनवरी से मार्च के अंत तक और उसके बाद 22 अप्रैल से 5 नवंबर के मध्य अपने खान-पान पर विशेष ध्यान दें क्योंकि अत्यधिक वसा युक्त भोजन आपको मोटापे का शिकार बना सकता है। 10 मई को शुक्र मेष राशि में प्रवेश करेगा इस दौरान आपके दांपत्य जीवन में बाहर आएगी और आप अपने जीवन साथी के साथ सुख भरे पलों का आनंद लेंगे।

इस साल आपका स्वास्थ्य जीवन बहुत ही बढ़िया रहेगा। इस वर्ष न केवल आपको स्वास्थ्य लाभ मिलेगा बल्कि पुरानी बीमारियों से भी आपको छुटकारा मिलेगा। आपको अपने करियर बहुत ही बढ़िया परिणाम मिलेंगे। मार्च के बाद आपके नए विचार आपको सफल परिणाम दिलाने में सफल रहेंगे। इस समय कार्यक्षेत्र में आपको बेहतर परिणाम मिलेंगे। सहकर्मियों का सहयोग मिलेगा परंतु उतना नहीं जितना आप उनसे आशा करेंगे इसलिए आप उनके भरोसे में कतई न रहें। आर्थिक क्षेत्र में आपको उम्मीद से ज़्यादा अच्छे परिणाम मिलेंगे। इस क्षेत्र में भाग्य भी आपका साथ देगा और अपनी आर्थिक स्थिति को मजबूत बनाने के लिए कई अवसर प्राप्त होंगे। इस वर्ष किसी के साथ नए रिश्ते की शुरुआत हो सकती है। लव पार्टनर के साथ आपका बढ़िया तालमेल दिखेगा। आप उनके साथ ट्रिप पर भी जा सकते हैं। मनोरंजन के लिए भी दोनों साथ में कहीं घूमने-फिरने जा सकते हैं। हालांकि कई परिस्थितियां ऐसी भी आएंगी जिनमें आपको निराशा हाथ लगेगी। घर की ख़ुशियों से आप आनंदित रहेंगे। साल के मध्य में घर में कोई बड़ी ख़ुशी दस्तक दे सकती है। इस समय घर में मांगलिक कार्यक्रम हो सकता है।

वृश्चिक: वैदिक ज्योतिष के अनुसार वृश्चिक राशि का चिह्न 6 फरवरी को राशि का स्वामी मंगल मेष राशि में प्रवेश करेगा जोकि मंगल की मूल त्रिकोण राशि है। इसके परिणाम स्वरूप आपको मुक़दमे और कोर्ट कचहरी से संबंधित मामलों में विजय मिलेगी तथा आप अपने शत्रुओं का मानमर्दन करेंगे। लेकिन दूसरी ओर इस दौरान आपकी सेहत थोड़ी कमजोर रह सकती है। 9 अगस्त को मंगल आपके दशम भाव में प्रवेश करेंगे और इस दौरान आपके कार्य क्षेत्र में तरक्की आपको प्राप्त होगी और आपके अधिकार क्षेत्र में वृद्धि होगी। शनि का गोचर आपके दूसरे भाव में रहने से वाणी में कुछ कड़वाहट रह सकती है। इसलिए किसी से भी सोच समझकर बोलना बेहतर होगा। वर्ष की शुरुआत में गुरु का गोचर राशि में रहने से आपके निर्णयों में दूरदर्शिता की झलक मिलेगी और यही निर्णय आपके भविष्य में उत्थान का कारण बनेंगे।

आपके स्वास्थ्य जीवन पर नज़र डालें तो इस वर्ष आपको सेहत के मामले में थोड़ा सतर्क रहने की ज़रुरत है। आप अपनी फिटनेस की समस्या से जूझ सकते हैं। यदि आपकी सेहत में गिरावट आए तो किसी प्रकार की लापरवाही न बरतें। अपने रोग का त्वरित इलाज कराएं। फ़रवरी- मार्च का महीना आपकी सेहत के लिए थोड़ा नाजुक रह सकता है। वहीं करियर पर नज़र डालें तो आपको इसमें बहुत ही बढ़िया परिणाम मिल सकते हैं। अपने करियर में आपको सफलता मिलेगी और आपके सामने कई सुनहरे अवसर आएंगे। किसी अच्छी कंपनी से आपको नौकरी का प्रस्ताव प्राप्त हो सकता है। करियर को लेकर विदेश जाने की भी संभावनाएं हैं। आर्थिक जीवन के लिए मिलाजुला रह सकता है। इसमें आपको उतार-चढ़ाव देखने मिल सकता है। आपके ख़र्चे और आमदनी में अंतर देखने को मिलेगा, इसलिए अपने आर्थिक जीवन में ख़र्च और आमदनी के बीच तालमेल बनाकर चलें। वहीं प्रेम जीवन के लिए यह साल उत्तम रहेगा। प्रियतम के साथ रोमांस करने का अवसर मिलेगा और रिलेशनशिप में मजबूती आएगी।

धनु: वैदिक ज्योतिष के अनुसार धनु राशि का चिह्न इस वर्ष आपकी राशि में दोनों ग्रहण पड़ेंगे जिस कारण जहां एक और आप मानसिक रूप से परेशान रह सकते हैं वहीं दूसरी ओर स्वास्थ्य कष्ट होने की संभावना है। आपकी राशि का स्वामी बृहस्पति 30 मार्च से 22 अप्रैल तक और उसके बाद 5 नवंबर से वर्ष पर्यंत आपकी राशि में रहने से आपकी सभी समस्याओं को दूर करेगा। स्वास्थ्य को लेकर चली आ रही समस्याएं दूर होंगी और आपके कार्य में सफलता मिलेगी। 10 अप्रैल से 11 अगस्त तक बृहस्पति के वक्री रहने से और 14 दिसंबर से अस्त होने के कारण आपको बृहस्पति का प्रभाव नहीं मिल पाएगा जिसके कारण आपको अधिक परिश्रम करना पड़ेगा।

धनु का वार्षिक 2019 राशिफल यह बताता है कि इस साल के शुरुआती माह में आपको स्वास्थ्य स्वास्थ्य संबंधी परेशानी रह सकती है। यात्रा के दौरान आपको थकान महसूस हो सकती है। इस वर्ष सावधानी से वाहन चलाएं। करियर की दृष्टि से यह साल आपके लिए मिलेजुले परिणाम लेकर आएगा। इस वर्ष आपको अपने करियर में उतार चढ़ाव का सामना करना पड़ सकता है। आपको आपकी मेहनत का परिणाम मिलेगा। इस समय नौकरी में आपका प्रमोशन हो सकता है अथवा आपकी सैलरी बढ़ सकती है। वहीं आर्थिक क्षेत्र में परिस्थितियाँ आपके अनुकूल होंगी। विभिन्न स्रोतों से आपको आर्थिक मदद मिलेगी। पैतृक संपत्ति में वृद्धि होगी। आपके परिजन आर्थिक पक्ष को मजबूत बनाने में आपकी मदद करेंगे। यदि आप कोई व्यापार अथवा क़ारोबार करते हैं तो उसमें आपको आर्थिक मुनाफ़ा होगा। अपने प्रेम जीवन को लेकर आप इस वर्ष कुछ ज़्यादा ही गंभीर रहेंगे। यदि साथी से किसी तरह का विवाद हो जाता है तो विवाद को आगे न बढ़ाएं, बल्कि उसे बातचीत के माध्यम से निबटाएं। घर में परिजनों का स्वास्थ्य एक दम दुरुस्त रहेगा। माता-पिताजी को स्वास्थ्य संबंधी छोटी-मोटी तकलीफ़ हो सकती है।

मकर: वैदिक ज्योतिष के अनुसार मकर राशि का चिह्न आपकी राशि का स्वामी शनि वर्ष पर्यंत बारहवें घर में गोचर करेगा जिसके परिणामस्वरुप आप पर साढ़ेसाती का प्रभाव रहेगा। इसके कारण आप के स्वास्थ्य की स्थिति कमजोर बनी रह सकती है। इसके साथ ही ख़र्चों में भी वृद्धि उस रहने से आप मानसिक और आर्थिक रूप से कुछ परेशान रह सकते हैं। लेकिन विदेशी स्रोतों से आमदनी में भी इज़ाफा होगा तथा धार्मिक कार्यों में आपको खूब मन लगेगा। वर्ष की शुरुआत में 20 जनवरी तक और उसके बाद 27 दिसंबर के बाद शनि अस्त रहेगा जिस दौरान इसके प्रभाव में कुछ कमी आएगी। वहीं 30 अप्रैल से 18 सितंबर के मध्य शनि के वक्री होने से आपकी आमदनी में इज़ाफा होगा और खर्चो में कटौती होगी। इस दौरान काफी लंबे समय से अटकी हुई आपकी इच्छाएं पूरी होने से मन प्रसन्न होगा। जनवरी से 30 मार्च और 22 अप्रैल से 5 नवंबर के मध्य बृहस्पति का गोचर उत्तम धन लाभ का योग बना रहा है। जुलाई में पड़ने वाले चंद्र ग्रहण का प्रभाव आपकी राशि पर भी होगा जिस कारण स्वास्थ्य कष्ट बढ़ सकता है।

यह आपके लिए अच्छा रहेगा। हालांकि स्वास्थ्य कारणों से आपको कुछ परेशानी का सामना करना पड़ सकता है। लेकिन शुरुआत के तीन माह (जनवरी, फरवरी, मार्च) आपकी सेहत दुरुस्त रहेगी। इस समय आप ऊर्जावान महसूस करेंगे परंतु उसके बाद अप्रैल से सितंबर तक आपको स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। आर्थिक जीवन मिलाजुला रहेगा। इस वर्ष आपके ख़र्चों में बढ़ोतरी होने की संभावना है जबकि आमदनी की बात करें तो इसमें वृद्धि की संभावना कम है। हालांकि आपको अंतर्राष्ट्रीय संबंधों से आर्थिक मुनाफ़ा होने की प्रबल संभावना है। यदि आप नौकरी कर रहे हैं तो आपका प्रमोशन अथवा आपको कंपनी की ओर से प्रोत्साहन प्राप्त होगा। अक्टूबर माह भी आपके लिए कई ख़ुशखबरी लेकर आएगा। व्यापार में आपकी उन्नति होगी। अपने प्रेम जीवन को ख़ूब इंज्वॉय करेंगे। आपका प्रेम जीवन रोमांचक रहेगा। यदि आप अपने लव पार्टनर को लाइफ़ पार्टनर बनाना चाहते हैं तो आपकी यह इच्छा इस वर्ष पूरी हो सकती है।

कुम्भ: वैदिक ज्योतिष के अनुसार कुम्भ राशि का चिह्न इस वर्ष आपका राशि स्वामी ग्यारहवें भाव में संचार करेगा जिसके कारण दीर्घावधि के लाभ होंगे और आपकी योजनाएं सफल होंगी। अप्रैल से सितंबर के मध्य आपको कार्यक्षेत्र में अधिक मेहनत करनी होगी जिसका उचित प्रतिफल आपको किस समय के बाद अवश्य प्राप्त होगा। 22 मार्च से शुक्र का गोचर कुंभ राशि में होने से आपको विभिन्न प्रकार के सुखों की प्राप्ति होगी और भाग्य का साथ मिलेगा। 16 जुलाई का चंद्र ग्रहण आपके लिए खुशख़बरी लेकर आएगा और जिस क्षेत्र में भी आप प्रयास करेंगे उसी क्षेत्र में आपको कामयाबी हाथ लगेगी। गुरु बृहस्पति 30 मार्च के बाद धनु राशि में प्रवेश करेंगे और आपके लिए एक से अधिक स्रोतों से आय का साधन उपलब्ध कराएँगे। इस दौरान संतान प्राप्ति की इच्छा रखने वाले लोगों को खुशख़बरी मिल सकती है। जिनका विवाह लंबे समय से अटका हुआ है उनको इस साल विवाह बंधन में बंधने का मौका मिल सकता है।

कुंभ फलादेश के अनुसार इस साल आपका स्वास्थ्य जीवन अच्छा रहेगा। आप निरोगी रहेंगे और खुद को अधिक ऊर्जावान महसूस करेंगे। आपके अंदर जोश, उत्साह और गजब की फुर्ती देखने को मिलेगी। इस साल आपके करियर को ऊँचाई मिलेगी। आपको अपने कार्यक्षेत्र में सफलता मिलेगी। आपके निर्णय करियर को और भी सुनहरा बनाने में मदद करेंगे। आप अपने अच्छे फ़ैसलों से अपने लिए सुनहरे अवसर निर्माण करेंगे। आपका आर्थिक जीवन शानदार रहेगा। इस वर्ष आपको आर्थिक लाभ के योग हैं। आपके पास धन आएगा जिससे आपकी आर्थिक स्थिति मजबूत होगी। इस वर्ष आप धन को संचय करने में सफल रहेंगे। मार्च के बाद आपकी आर्थिक स्थिति में सुधार होने लगेगा। आमदनी के कई सारे स्रोत होंगे और आप अपने आर्थिक पक्ष को लेकर ख़ुश भी दिखाई देंगे। इस वर्ष आपका प्रेम जीवन सामान्य से बेहतर रहेगा। साल की शुरुआत थोड़ी धीमी रहेगी। मार्च तक आपको प्रेम जीवन में उतार-चढ़ाव का सामना करना पड़ सकता है। परंतु इस अवधि में अपने प्यार पर पूरा भरोसा रखें और अपने प्रियतम का विश्वास न तोड़ें।

मीन: वैदिक ज्योतिष के अनुसार मीन राशि का चिह्न आपकी राशि के स्वामी बृहस्पति देव 30 मार्च तक आपके नवम भाव में रहकर आपके भाग्य में वृद्धि करेंगे और उसके बाद दशम भाव में आने के बाद कार्य क्षेत्र में थोड़ी सी स्थिति कठिन हो सकती है। शनि देव का गोचर दशम भाव में होने से इस वर्ष आपको अधिक मेहनत करनी होगी। हालांकि इस मेहनत का परिणाम आपको अवश्य मिलेगा लेकिन आपको अपने कार्य के प्रति पूरी ईमानदारी बरतनी होगी। जुलाई के मध्य में पड़ने वाला चंद्र ग्रहण आपके लिए शुभ फलदायक होगा। 10 नवंबर से मंगल का गोचर अष्टम भाव में होगा जो आपके स्वास्थ्य के लिए परेशानी का कारण बन सकता है। इसके बाद 25 दिसंबर को वृश्चिक राशि में मंगल के प्रवेश करने के साथ ही आपके कार्यों में सफलता मिलने प्रारंभ हो जाएगी।

मीन राशिफल के अनुसार इस वर्ष आपकी सेहत ठीक रहेगी, लेकिन फिर भी आपको अपने स्वास्थ्य के प्रति गंभीर रहना होगा। ख़ुद को फिट रखने के लिए आप योग व्यायाम, जिमिंग, रनिंग आदि कर सकते हैं। दैनिक दिनचर्या को हैल्दी बनाएं। प्रातः जल्दी उठें और रात्रि को समय से सोएं। अच्छे स्वास्थ्य के लिए पर्याप्त नींद लें। मन को स्थिर रखने के लिए आप ध्यान भी लगा सकते हैं। यदि आप मानसिक और शारीरिक रूप से स्वस्थ्य रहते हैं तो इस वर्ष आपका करियर ऊँचाई की बुलंदियों को भी छू सकता है। कार्यक्षेत्र में आपको एक नई पहचान मिलेगी। आपकी छवि एक परिश्रमी, मेहनती और ईमानदार कर्मी की होगी। आपको आर्थिक चुनौतियों का सामना करना पड़ सकता है, इसलिए इस वर्ष अपने आर्थिक पक्ष को लेकर थोड़े सावधान रहें। ज़ोखिम भरे क़दम उठाने से पहले उस पर विचार करें, आपको धन हानि भी हो सकती है। इस वर्ष आप अपने प्रेम जीवन को लेकर थोड़े भ्रम की स्थिति में रह सकते हैं। अपनी रिलेशनशिप को लेकर आपके मन में किसी प्रकार की शंका रहेगी। प्रियतम के साथ किसी बात को लेकर कहासुनी भी हो सकती है।

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

Loading...

Popular News This Week

 
-->