नरेंद्र मोदी और शिवराज सिंह, दोनों में बड़ा अंतर है, मैं बताता हूं आपको: राहुल गांधी | NATIONAL NEWS

24 November 2018

भोपाल। मध्यप्रदेश विधानसभा चुनाव 2018 के प्रचार के लिए राहुल गांधी ने आज सागर एवं दमोह में आम सभाओं को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने सीएम शिवराज सिंह की तारीफ करते हुए पीएम नरेंद्र मोदी पर हमला किया। उन्होंने सीएम शिवराज सिंह को एक सभ्य नेता बताया लेकिन नरेंद्र मोदी को असभ्य नेता करार दिया। राहुल ने दमोह की रैली में संबोधित करते हुए कहा, 'मोदी और शिवराज में एक फर्क है। शिवराज जी तमीज से बोलते हैं और नरेंद्र मोदी जी तमीज से बोलना नहीं जानते हैं। दुख होता है कि वो देश के प्रधानमंत्री हैं, उन्हें देश की जनता ने चुना है, लेकिन मैं उनके खिलाफ एक भी शब्द गलत नहीं बोलूंगा।

भ्रष्टाचार किया लेकिन विकास नहीं
उन्होंने कहा कि शिवराज आक्रमण करते हैं, लेकिन वह तमीज से बोलते हैं। नरेंद्र मोदी तमीज से बोलना नहीं जानते। दुख की बात है। वह कुछ भी बोले देश के प्रधानमंत्री हैं, लेकिन राहुल गांधी उनके बारे में बदतमीजी से कभी नहीं बोलेगा। राहुल गांधी ने कहा कि शिवराज जी से हम लड़ रहे हैं खुलकर और भयंकर लड़ाई हो रही है। मगर वो तमीज से बोल रहे हैं। फर्क है दोनों में। आप कहेंगे राहुल गांधी चीफ मिनस्टर की प्रशंसा कर रहे हैं, लेकिन सच्चाई है तो बोलना पड़ेगा। भ्रष्टाचार जरूर किया है पर उन्होंने विकास नहीं किया, लेकिन व्यक्ति तमीज से बात करता है।

नरेंद्र मोदी अब नफरत की बात करते हैं
राहुल गांधी ने कहा कि शिवराज ने 15 साल राज किया, कमियां तो हैं। गलतियां तो की हैं। शिवराज सरकार जले हुए तवे की तरह खराब हो गई है। ऐसे में अब एक ही रास्ता बचा है। हाथ से पुराने तवे को उठाकर बाहर फेंकना है। राहुल ने कहा कि अब पीएम के भाषण में न किसानों की बात होती है, न युवाओं के रोजगार की बात होती और न ही भ्रष्टाचार की बात। अब हो नफरत की बात करते हैं। गुस्से में बात करते हैं और झूठ में बोलते हैं। इसका कारण है नरेंद्र मोदी जानते हैं जो भरोसा किसानों युवाओं के थे वो टूट गए हैं। अब जब मोदी के भाषण जनता सुनती है तो उनकी तरफ देखती है तो कहती देखो ये झूठ बोलने आया है। उनकी मन की बात को मोदी समझते हैं तो वो हमारे परिवार और पार्टी को बुरा भला कहने लगते हैं।

व्यापमं घोटाले का फायदा शिवराज के परिवार और आरएसएस को कुआ
कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि व्यापम घोटाले का पूरा फायदा आरएसएस के लोगों और शिवराज सिंह चौहान के परिवार को मिला है। राहुल ने कहा, 'मैंने जब गलती से पनामा पेपर में शिवराज चौहान जी के बेटे का नाम लिया तो तुरंत मानहानि का मामला दर्ज करा दिया, लेकिन जब व्यापम, डंपर कांड, ई-टेंडरिंग में उनका नाम लिया तब मानहानि का मामला क्यों नहीं दर्ज कराया? 

रसोई का तवा भी 10 साल में खराब हो जाता है, अब तवा बदलने का वक्त है
राहुल ने कहा कि हर प्रदेश में बीजेपी का मुख्यमंत्री कोई न कोई चोरी करने में जुटा हैं राजस्थान की मुख्यमंत्री के बेटे ने ललित मोदी से पैसा लिया, छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री के बेटे का नाम पनामा पेपर में आया तो यहां शिवराज चौहान व्यापम, डंपर कांड और ई-टेंडरिंग में हैं।राहुल गांधी ने कहा कि एक महिला ने हमारे पार्टी के कार्यकर्ता से कहा कि रसोई का तावा 10 साल में खराब हो जाता है। उस पर पकायी रोटी जल जाती है। इसी तरह से शिवराज सिंह चौहान की सरकार तावा जैसे खराब हो चुकी है। अब हाथ से तावे को उठांकर बाहर फेंकना है।

कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि पूरी दुनिया में तेल के दाम गिरते जा रहे हैं, लेकिन जब मध्य प्रदेश का युवा स्कूटर, मोटर साईकिल में पेट्रोल भरवाता है तो उसकी जेब से पैसा निकलकर सीधा नीरव मोदी, विजय माल्या की जेब में जाता है। राहुल ने कहा कि मध्य प्रदेश ने अब मन बना लिया है शिवराज सिंह चौहान को हटाने का और कुछ ही महीनों के बाद 56 इंच वाले चौकीदार की सरकार भी देश की सत्ता से जाने वाली है।

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

Loading...

Popular News This Week

 
-->