INDORE कोर्ट में रेप पीड़िता पर हमला, आरोपी की मां बहन ने ने पीटा, 3 घायल | MPNEWS

13 November 2018

इंदौर। ज्यादती की शिकार 16 वर्षीय लड़की, उसकी मां और दादी पर सोमवार को जिला कोर्ट परिसर में कोर्ट रूम के बाहर दुष्कर्म के आरोपी की मां, बहन सहित परिजनों ने हमला कर दिया। इससे तीनों जख्मी हो गईं। उनकी चीख सुनकर कोर्ट कक्ष में मौजूद लोग बाहर आए। सूचना मिलते ही पुलिस वहां पहुंची, किंतु तब तक आरोपी भाग गए थे। पुलिस ने आरोपी की दो बहनों सहित चार लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया है। सभी फरार हैं। पीड़िता, उसकी मां व दादी बयान के लिए कोर्ट पहुंची थीं। 

विजय नगर थाना क्षेत्र के चित्रा नगर निवासी नाबालिग के अपहरण व दुष्कर्म के मामले में पुलिस ने राहुल उर्फ अंग्रेज (20) पिता कैलाश नारायण केवट  निवासी खातेगांव (देवास) के खिलाफ दुष्कर्म, अपहरण एवं लैंगिक अपराधों से बालकों के संरक्षण अधिनियम  के तहत केस दर्ज कर उसे गिरफ्तार किया था। आरोपी जेल में है। वह नाबालिग को 11 दिसंबर 2017 को अपहरण कर ले गया था। पांच-छह दिन बाद नाबालिग को उसके कब्जे से पुलिस ने बरामद किया था। इस केस की ट्रायल शुरू हो गई है। 

सोमवार को पीड़िता, उसकी मां व दादी बयान के लिए कोर्ट में आई थीं। अपर सत्र न्यायाधीश वर्षा शर्मा की कोर्ट में अतिरिक्त जिला अभियोजन अधिकारी आरती भदौरिया ने पीड़िता व  उसकी मां के बयान कराए। उसके बाद दोपहर करीब पौने दो बजे पीड़िता, उसकी मां और दादी कोर्ट कक्ष के बाहर बेंच पर बैठी थीं। तभी तीन महिलाओं सहित चार आरोपी वहां आए और उन्होंने यह धमकी देते हुए पीड़िता, मां व दादी पर हमला कर पीटना शुरू कर दिया कि हमारे खिलाफ बयान मत देना। वरना ठीक नहीं होगा।

लोग समझ ही नहीं पाए, कोर्ट मुंशी ने किया बीच-बचाव, लेकिन पीटती रहीं महिलाएं : अचानक हुई पिटाई से कोर्ट के कॉरिडोर में मौजूद लोग समझ नहीं पाए कि मामला क्या है। चीख और हंगामा सुनकर कोर्ट कक्ष में मौजूद कोर्ट मुंशी बाहर आया। वह समझा कि महिलाएं झगड़ रही हैं। उसने बीच-बचाव किया किंतु आरोपी महिलाएं उससे संभली नहीं और कुछ देर तक तीनों की पिटाई करती रहीं। फिर फुर्ती से चारों आरोपी भाग गए।

यह दृश्य देख पूरे कॉरिडोर में कुछ देर के लिए भगदड़ मच गई थी। आरोपियों के भागने के बाद पीड़िता और उसकी मां ने बताया कि हमला करने वाले ये लोग जेल में बंद आरोपी के परिजन हैं। पिटाई से पीड़िता उसकी मां और दादी के शरीर पर चोट आईं और खून निकल रहा था। सूचना मिलने पर कोर्ट में मौजूद पुलिसकर्मी वहां पहुंचे। बाद में अदालत ने पीड़ितों को रिपोर्ट के लिए एमजी रोड थाने ले जाने का निर्देश दिया। एमजी रोड पुलिस ने गोलू केवट, उसकी पत्नी और दो बहनों पूजा, आरती के खिलाफ केस दर्ज किया। 

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

Loading...

Popular News This Week

 
-->