बीमार कर्मचारियों को चुनाव ड्यूटी में लगाया, तीसरी मौत | EMPLOYEE NEWS

भोपाल। मध्यप्रदेश विधानसभा चुनाव 2018 में बीमार कर्मचारियों को जबदस्ती चुनाव ड्यूटी में लगाया गया। इसका नतीजा यह हुआ कि मतदान के दिन 2 कर्मचारियों की मौत हुई और आज अस्पताल में भर्ती तीसरे कर्मचारी की भी मौत हो गई। उसे भी मतदान के दिन ही अस्पताल में भर्ती किया गया था। 

जानकारी के अनुसार भिंड जिले के शासकीय अरविंद महाविद्यालय पोलिंग बूथ पर रिजर्व में तैनात कर्मचारी रामभरोसे को मतदान वाले दिन अचानक पेट में दर्द और घबराहट की समस्या आई। कर्मचारी के अन्य साथियों ने उसे तत्काल गोहद अस्पताल पहुंचाया। गोहद में करीब डेढ घंटे इलाज के बाद डॉक्टरों ने उसे ग्वालियर रेफर कर दिया था। ग्वालियर में इलाज के दौरान गुरूवार को कर्मचारी की मौत हो गई। कर्मचारी भिंड में उपायुक्त सहकारिता में पदस्थ था।

कर्मचारी को पूर्व से डायबिटीज और हार्ट संबंधी बीमारी थी। वहीं एसडीएम ने मौत पर दुख जताते हुए कहा कि नियमानुसार कर्मचारी के परिजन की पूरी मदद की जाएगी। दरअसल, 28 नवंबर को वोटिंग के दिन तीन और कर्मचारियों की मौत हो गई थी। ये अफसर इंदौर और गुना में पदस्थ थे। राज्य चुनाव आयोग ने मृतकों के परिवार को 10 लाख सहायता राशि देने की घोषणा की थी।