Loading...

पढ़िए दुनिया के अनौखे नाम वाले बालक '108 गुप्ता' के नामकरण की कहानी | GUJARAT NEWS

सूरत। सूरत में सिविल अस्पताल के सामने शुक्रवार को ट्रैफिक में फंसी 108 एंबुलेंस में एक बच्चे का जन्म हुआ। उसके माता-पिता ने अब मासूम का नाम ही 108 गुप्ता रख दिया है। बच्चे के पिता विकेश गुप्ता ने कहा कि शुक्रवार का दिन हमारी जिंदगी का कभी न भूलने वाला दिन बन गया है।

प्रसव पीड़ा से कराह रही मेरी पत्नी अस्पताल से सिर्फ 400 मीटर की दूरी पर थी, लेकिन अस्पताल तक पहुंच नहीं पाई। ट्रैफिक में उसकी जान अटकी हुई थी। एंबुलेंस के ड्राइवर और पुरुष नर्स ने किसी तरह मेरी पत्नी की जान बचाई और सुरक्षित प्रसव कराया। बच्चा मुश्किल परिस्थिति में एंबुलेंस में पैदा हुआ। इसलिए हमने उसका नाम 108 रख दिया। अब मैं जब-जब 108 बुलाऊंगा, तब मुझे वह दिन याद आएगा। मेरी 2 बेटियां हैं। अब यह बेटा पैदा हुआ है। 

बच्चे की मां किरण गुप्ता के मुताबिक, जब डॉक्टर ने कहा कि बच्चा टेढ़ा हो गया है, तब मैं बहुत डर गई थी। सिविल अस्पताल के सामने पहुंचने पर भी ट्रैफिक की वजह से एंबुलेंस अस्पताल तक नहीं पहुंच पाई। उसी समय तेज दर्द होने लगा। बच्चे के जन्म लेते ही मेरे लिए सबकुछ बदल गया। एंबुलेंस के ड्राइवर की वजह से आज मैं और मेरा बच्चा सुरक्षित हैं।
मध्यप्रदेश और देश की प्रमुख खबरें पढ़ने, MOBILE APP DOWNLOAD करने के लिए (यहां क्लिक करेंया फिर प्ले स्टोर में सर्च करें bhopalsamachar.com