Advertisement

कांग्रेस: मध्यप्रदेश की इन सीटों पर तनाव बराकरार, कुछ नाम लीक हुए | mp news



भोपाल। कांग्रेस की केंद्रीय चुनाव समिति (सीईसी) ने शुक्रवार देर रात तक नई दिल्ली में बैठक कर कुछ और नाम फाइनल कर दिए। बताया जा रहा है कि अब तक 150 के आसपास नाम फाइनल हो गए हैं परंतु नामों की घोषणा अब तक नहीं की गई है। कमलनाथ का कहना है कि 31 अक्टूबर को सभी 230 नामों की एक साथ घोषणा कर दी जाएगी। इस बीच कुछ जानकारियां लीक हुई हैं। कुछ सीटों पर जबरदस्त विवाद जारी है। कुछ फाइनल हुए नाम लीक हो गए हैं। 

इन सीटों पर लड़ाई जारी
भोपाल और इंदौर शहर में अभी 6-6 सीटों पर स्थिति स्पष्ट नहीं है। 
महू से अंतर सिंह दरबार और सांवेर से तुलसी सिलावट का नाम भी है।
देपालपुर से विशाल पटेल और सत्यनारायण पटेल में से एक नाम तय होना है। 
ग्वालियर ग्रामीण से सिंधिया के दो समर्थकों में रस्साकसी है। साहब सिंह गुर्जर पर गंभीर आपराधिक प्रकरण दर्ज है, जिसके चलते कल्याण सिंह कंसाना के नाम को वरीयता दी जा सकती है। 
श्योपुर में पूर्व विधायक ब्रजराज सिंह चौहान और अतुल चौहान के बीच टक्कर है। बदले समीकरणों के तहत अतुल चौहान का नाम पैनल में शामिल हुआ है। 
ग्वालियर क्रमांक 15 पर पूर्व विधायक प्रद्युमन सिंह तोमर और सुनील शर्मा का नाम है। 
सबलगढ़ से कार्यवाहक अध्यक्ष रामनिवास रावत के नाम पर मोहर लगने के बाद विजयपुर में पार्टी दुविधा में है। इस सीट पर प्रत्याशी चयन की जिम्मेदारी को रावत को दी गई है। 
बुंदेलखंड के पांच जिलों की निवाड़ी, जतारा, सागर, बीना, हटा और दमोह सीट पर स्थिति स्पष्ट नहीं हो सकी। 
महाकौशल की नरसिंहपुर और गाडरवाड़ा और तेंदूखेड़ा सीट पर तनाव बरकरार है। 
अरुण यादव खरगोन से टिकट मांग रहे हैं, लेकिन पार्टी इसके लिए तैयार नहीं है। 

ये फाइनल नाम लीक हुए
सोनकच्छ से सज्जन सिंह वर्मा, 
आलोट से प्रेमचंद गुड्डू, 
बड़नगर से मोहन सिंह पवार, 
तराना से महेश परमार, 
खाचरौद-नागदा से दिलीप गुर्जर, 
घटिया से रामलाल मालवीय, 
महेश्वर से विजय लक्ष्मी साधौ,
बड़वाह से सचिन बिड़ला,
मध्यप्रदेश और देश की प्रमुख खबरें पढ़ने, MOBILE APP DOWNLOAD करने के लिए (यहां क्लिक करेंया फिर प्ले स्टोर में सर्च करें bhopalsamachar.com