सिंधिया पर फर्जी फोटो वायरल करने का आरोप, भाजपा ने की आयोग से शिकायत | mp news

23 October 2018

भोपाल। कांग्रेस प्रचार समिति के अध्यक्ष श्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने फेसबुक एवं ट्विटर पर एक फर्जी फोटो पोस्ट करके मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चौहान एवं मध्यप्रदेश की छवि खराब करने का प्रयास किया है। इस संबंध में भारतीय जनता पार्टी के आईटी विभाग के प्रदेश संयोजक श्री शिवराज सिंह डाबी ने मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी से शिकायत की है।

मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी को की गई लिखित शिकायत में श्री डाबी ने कहा है कि कांग्रेस की प्रचार समिति के अध्यक्ष श्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने 20 अक्टूबर को अपने फेसबुक एवं ट्विटर एकाउंट से एक रोते हुए बुजुर्ग का फोटो और संदेश पोस्ट किया था। फोटो के उपर कैपशन में लिखा है, खुशियां फिर से आने वाली है, भाजपा मध्यप्रदेश से जाने वाली है। वक्त है बदलाव का। साथ ही फोटो पर लिखा है मध्यप्रदेश का बेटा हूं मध्यप्रदेश की बात करूंगा, युवा, गरीब, किसानों को लेकर सबके हित की बात करूंगा। शिकायत में कहा गया है कि यह फोटो मध्यप्रदेश का ही नहीं है, बल्कि कर्नाटक का है, जिसे कर्नाटक चुनाव के समय छापा गया था। शिकायत में कहा गया है कि ज्योतिरादित्य सिंधिया कांग्रेस पार्टी की प्रचार समिति के अध्यक्ष होने के नाते एक जिम्मेदार पद पर हैं और उनके द्वारा अपने चुनावी फायदे के लिए गलत जानकारियों के द्वारा जनता को भ्रमित करने का प्रयत्न किया गया है। 

शिकायत में कहा गया है कि पूर्व में भी श्री दिग्विजय सिंह द्वारा पाकिस्तान के एक क्षतिग्रस्त पुल को सुभाष नगर भोपाल के निर्माणाधीन पुल बताकर यह प्रचारित करने का प्रयास किया था कि इस पुल का निर्माण गुणवत्ता के अनुसार नहीं किया जा रहा है। वास्तव में वह फोटो पाकिस्तान की पाई गई थी। इसी प्रकार हाल ही में प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ ने प्रदेश की सड़कों को खस्ताहाल बताते हुए जो फोटो पोस्ट किया था, वह भी बांग्लादेश का पाया गया था। श्री डाबी ने निर्वाचन पदाधिकारी को की गई शिकायत में लिखा है कि फेक न्यूज का कृत्य चुनावी आचार संहिता का उल्लंघन होने के साथ ही भारतीय दंड सहिता की धारा 471 एवं 505 के अतंर्गत अपराध की श्रेणी में आता है। अतः कांग्रेस पार्टी के प्रचार समिति के अध्यक्ष ज्योतिरादित्य सिंधिया के ऑफिशियल ट्विटर एवं फेसबुक एकाउंट के विरूद्ध कार्यवाही करते हुए उक्त एकाउंट को तुंरत बंद किए जाने के आदेश दें।
मध्यप्रदेश और देश की प्रमुख खबरें पढ़ने, MOBILE APP DOWNLOAD करने के लिए (यहां क्लिक करेंया फिर प्ले स्टोर में सर्च करें bhopalsamachar.com

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

Loading...

Popular News This Week