Advertisement

आंदोलन से उपजी सपाक्स पार्टी की आधिकारिक घोषणा हुई, झंडा दिखाया | MP ELECTION NEWS



भोपाल। मध्यप्रदेश में सपाक्स के नाम से अब एक राजनीतिक दल भी अस्तित्व में आ गया है। सबसे पहले यह सवर्ण एवं पिछड़ा वर्ग के कर्मचारियों का संगठन था जो आरक्षित जातियों के संगठन अजाक्स के खिलाफ बनाया गया था। फिर सपाक्स के नाम से ही एक सामाजिक संगठन बनाया गया और अब राजनीतिक पार्टी की घोषणा कर दी गई। सपाक्स के अध्यक्ष हीरालाल त्रिवेदी ने कहा देश में जाति और धर्म की समानता के आधार पर प्रदेश की सभी सीटों पर विधानसभा और लोकसभा का चुनाव लडेंगे।

सभी 230 सीटों पर चुनाव लड़ेंगे
हीरालाल त्रिवेदी ने बयान दिया है कि वो विधानसभा चुनाव में सभी 230 सीटों पर चुनाव लड़ेंगे। आरक्षण के खिलाफ गठित हुई पार्टी आरक्षित सीटों पर किसे प्रत्याशी बनाएगी, इसके जवाब में कहा गया कि पार्टी आरक्षण के खिलाफ नहीं है बल्कि जातिगत आरक्षण के खिलाफ है। आरक्षित जातियों में जो लोग गरीबों को आरक्षण दिए जाने के पक्षधर होंगे उन्हे प्रत्याशी बनाया जाएगा। 

क्रांति रैली में कर दिया था ऐलान
इससे पहले सपाक्स ने रविवार को क्रांति रैली का आयोजन किया गया था। इस रैली में श्री राजपूत करणी सेना ने भी बराबर की भागीदारी की थी। इसी दौरान त्रिवेदी ने ऐलान कर दिया था कि वो 2 अक्टूबर को राजनीतिक पार्टी का आधिकारिक ऐलान कर देंगे। 

आप की तरह आंदोलन से उपजी है सपाक्स
बता दें कि मध्यप्रदेश में सपाक्स का गठन भी ठीक उसी तरह से हुआ है जैसे दिल्ली में आम आदमी पार्टी का हुआ था। लोकपाल आंदोलन के बाद आम आदमी पार्टी का गठन हुआ था। प्रमोशन में आरक्षण के खिलाफ शुरू हुए सरकारी आंदोलन के बाद मध्यप्रदेश में यह जाति आधारित आरक्षण विरोधी आंदोलन बना और इसी से सपाक्स का उदय हुआ है। 
मध्यप्रदेश और देश की प्रमुख खबरें पढ़ने, MOBILE APP DOWNLOAD करने के लिए (यहां क्लिक करेंया फिर प्ले स्टोर में सर्च करें bhopalsamachar.com