FUTURE MAKER: आयकर नियमों का खुला उल्लंघन कर रही थी, विभाग भी चुप था

15 October 2018

नई दिल्ली। FUTURE MAKER LIFE CARE PRIVATE LIMITED खुलेआम सेमिनार आयोजित करती थी। सोशल मीडिया पर भी उसका प्रचार किया जा रहा था। कंपनी का सीएमडी राधेश्याम सेमिनार में मंच पर पहुंचकर लोगों को कंपनी में निवेश और कमाई के बारे में बताते थे। टारगेट अचीवर्स को करोड़ों के चैक व मर्सडीज बेंज दी जाती थी। सबकुछ सरेआम होता था। कहीं किसी भी लेनदेन में आयकर नियमों का पालन नहीं होता था। चौंकाने वाली बात यह है कि इसके बावजूद आयकर विभाग ने कंपनी के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की। 

MLM इंडस्ट्री के दिग्गजों ने करोड़ों कमाए
इस कंपनी से एमएलएम इंडस्ट्री को समझने वाले बड़े नेटवर्कर्स ने करोड़ों रुपए कमाए हैं। ये मार्केट में अच्छा प्लान आते ही सक्रिय होते हैं। इनमें सोशल ट्रेड, गेन बिट कॉइन जैसी कंपनियों भी रही हैं। इन्होंने प्रोडक्ट बेस्ड मार्केटिंग कंपनियों से नेटवर्किंग सीखी, लोगों को झांसे में लेकर अपना फायदा निकाला। ये सभी आयकर विभाग की जांच की जद में होना चाहिए, परंतु अब तक कुछ चुनिंदा नेटवर्क ही पकड़े गए हैं। 

कंपनी ने टैक्स भरा, परंतु लेनदेन पर टैक्स नहीं दिया
फ्यूचर मेकर ने जुलाई 2017 के बाद काफी ग्रोथ ली, मगर आय पर आयकर विभाग ने जानबूझकर आंखें बंद रखीं। कमाया धन कंपनी ने सीधे लीडर्स व कंपनी के निदेशकों के खातों में ट्रांसफर किया। इस पर कोई भी टैक्स निवेशकों ने नहीं भरा। हिसार में 1500 करोड़ रुपए का कंपनी ने व्यापार किया। अगर कंपनी आयकर दे रही थी तो इनकम टैक्स ने इससे कमाने वाले निवेशकों से 25% आयकर क्यों नहीं भरवाया। 

आयकर विभाग क्या कर सकता था, जो उसने नहीं किया 
आयकर विभाग की इन्वेस्टिगेशन विंग रोहतक है। यह विंग भी 12 महीने में कंपनी की आय को नहीं जान सकी। वहीं स्थानीय स्तर पर हिसार चार्ज के अधिकारियों द्वारा वाइड सर्वे का कार्य किया जा सकता था, वह भी नहीं किया गया। 

टॉप लीडर्स को यह दिया
1 करोड़ क्राउन एंबेस्डर 35000 पाॅइंट 
45 लाख क्राउन डायमंड 15000 पाॅइंट 
25 लाख रॉयल डायमंड 7500 पॉइंट 
14 लाख डायमंड 3000 पाॅइंट 
6.25 लाख प्लेटिनम 1000 पॉइंट 
मध्यप्रदेश और देश की प्रमुख खबरें पढ़ने, MOBILE APP DOWNLOAD करने के लिए (यहां क्लिक करेंया फिर प्ले स्टोर में सर्च करें bhopalsamachar.com

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

Loading...

Popular News This Week