कैसे पहचानें, वर्कप्लेस में आपका "सेक्सुअल हैरेसमेंट" हो रहा है | EMPLOYEE NEWS

09 October 2018

नाना पाटेकर-तनुश्री दत्ता विवाद के बाद अब हर महिला अपने साथ हो रहे यौन उत्पीडऩ (sexual harrasment) के  बारे में खुलकर बोल रही है। वर्कप्लेस पर सैक्शुअल हैरसमेंट के आरोपों के तहत अब मीटू कैंपेन (#me too) की शुरूआत हो चुकी है, इसके तहत अब महिलाएं बेजिझक अपनी भड़ास सोशल मीडिया के जरिए निकाल रही हैं। क्योंकि अब वे समझ गई हैं कि कई साल पहले जो उनके साथ हुआ, असल में वह यौन उत्पीडऩ था, पर उस वक्त उन्हें इसकी पहचान नहीं थी। 

हाल ही में नेशनल बार एसोसिएशन (national bar association) की तरफ से हुए एक सर्वे में सामने आया है कि 38 प्रतिशत लोगों ने माना है कि वर्कप्लेस पर कभी न कभी वे सेक्शुअल हैरसमेंट के शिकार हुए हैं। लेकिन दुर्भाग्य की बात तो ये है कि सेक्शुअल हैरसमेंट के केस फाइल नहीं होते। ऐसा इसलिए क्योंकि ज्यादातर मामलों में महिलाएं ही इस बात की पहचान नहीं कर पातीं। ऐसा इसलिए भी होता है क्योंकि कई महिलाएं पुरूषों द्वारा उनके साथ किए जा रहे ऐसे व्यवहार को आम बात मानती हैं। उनके हिसाब से ये सब वर्कप्लेस (sexual harrasment on workplace) पर नॉर्मल है। जैसे हाथ पकडऩा, कंधे पर हाथ रखना, किसी पुरूष द्वारा आपको टच करते हुए बात करना आदि। लेकिन आज के समय में ये बेहद अहम है कि महिला को पता होना चाहिए कि कौन सी घटना यौन उत्पीडऩ के अंतर्गत आती है। तो कैसे पहचानें कि आपके साथ जो रहा है वो सैक्शुअल हैरसमेंट है। 

- ऑफिस या किसी अन्य वर्कप्लेस पर कोई आपके साथ फ्लर्ट (flirt) कर रहा है और आप खुद को अनकंफर्टेबल महसूस कर रहे हैं तो समझ जाएं कि आपका सेक्सुअल हैरेसमेंट हो रहा है। 

- अगर कोई अपनी पोजीशन और सीनियोरिटी का फायदा उठाकर आपके साथ किसी भी तरह की जबरदस्ती कर रहा है या आपकी मर्जी के बगैर आपको छू रहा है, तो ये सैक्शुअल हैरसमेंट के अंतर्गत आएगा। 

- अगर कोई आपके साथ अपनी कोई ऐसी पर्सनल बात शेयर ( share personal information) करें, जो आपके मतलब की ना हो या आप उससे अहसज महसूस कर रहे हों। या फिर कोई आपके साथ ऐसी बातें शेयर करें जिससे सेक्शुअल बातें जुड़ी हों तो वह यौन उत्पीडऩ कहलाता है। 

- कोई आपको गंदी निगाह से देखे, आपको गंदे इशारे करे फिर चाहे वो फिजिकल हो या मौखिक ये आपका यौन उत्पीडऩ होना कहलाएगा। 

- कोई आपसे पॉर्न वीडियोज देखने को कहे, या फिर सेक्शुअल फेवर के लिए किसी तरह की मांग रखे, तो पहचान जाएं कि यहां आपका यौन उत्पीडऩ हो रहा है और अब आपको सख्त कदम उठाने की जरूरत है।
मध्यप्रदेश और देश की प्रमुख खबरें पढ़ने, MOBILE APP DOWNLOAD करने के लिए (यहां क्लिक करेंया फिर प्ले स्टोर में सर्च करें bhopalsamachar.com

और अधिक समाचारों के लिए अगले पेज पर जाएं, दोस्तों के साथ साझा करने नीचे क्लिक करें

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

Loading...

Advertisement

Popular News This Week