Advertisement

परिवारवाद: अमित शाह से सहमत नहीं हैं कैलाश विजयवर्गीय | Bhopal mp news



भोपाल। राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह की कृपा से भाजपा के राष्ट्रीय महामंत्री बने इंदौर के नेता एवं महू विधायक कैलाश विजयगर्वीय राजनीति में परिवारवाद के विषय पर अमित शाह से सहमत नहीं हैं। इंदौर से टिकट के लिए अपने बेटे (आकाश विजयगर्वीय ) की दावेदारी पर भाजपा के राष्ट्रीय महामंत्री कैलाश विजयगर्वीय ने कहा है कि नेता पुत्र होना कोई दोष नहीं है। बता दें कि इससे पहले मप्र में ही अमित शाह स्पष्ट कर चुके हैं कि पार्टी में परिवारवाद नहीं चलेगा। रिश्तेदारों को टिकट नहीं दिया जाएगा। 

गौरतलब है कि भाजपा वंशवाद को लेकर हमेशा कांग्रेस पर आरोप लगाती रही है, लेकिन चुनाव में कई नेता पुत्र टिकट की दावेदारी कर रहे हैं। इनमें कैलाश विजयवर्गीय के बेटे आकाश विजयवर्गीय भी शामिल हैं। कैलाश ने खुद के चुनाव लड़ने के सवाल पर कहा कि मेरे बारे में भी फैसला पार्टी ही करेगी। चर्चा है कि कैलाश विजयवर्गीय को पार्टी ज्योतिरादित्य सिंधिया के खिलाफ उतारने की तैयारी कर रही है। 

अपनी जगह आकाश को टिकट दिलाना चाहते थे कैलाश विजयगर्वीय
बता दें कि कैलाश विजयगर्वीय पिछले कई सालों से अपने बेटे आकाश को विधायक बनाने की कोशिश कर रहे हैं। 2013 के चुनाव से पहले भी कैलाश विजयगर्वीय ने कहा था कि वो अपनी विधानसभा सीट अपने बेटे को बर्थ गिफ्ट के रूप में देना चाहते हैं। भाजपा में इसका काफी विरोध हुआ था। लोगों ने खुलकर पूछा था कि क्या भाजपा ने कोई निर्वाचन क्षेत्र कैलाश विजयगर्वीय को पट्टे ​पर दे दिया है जो वो पार्टी की मर्जी के बिना किसी को भी गिफ्ट कर सकते हैं। 
मध्यप्रदेश और देश की प्रमुख खबरें पढ़ने, MOBILE APP DOWNLOAD करने के लिए (यहां क्लिक करेंया फिर प्ले स्टोर में सर्च करें bhopalsamachar.com