हैवानियत: 5 साल की बच्ची, दोनों प्राइवेट पार्ट घायल, खून ही खून | CRIME NEWS

01 October 2018

सूरत/गुजरात। हैवानियत की हद पार कर देने वाली घटना सामने आई है। दरिंदे ने 5 साल की मुंहबोली भांजी के साथ घिनौना काम किया। उसके ओंठ, कान से खून निकल रहा था। उसके दोनों प्राइवेट पार्ट बुरी तरह घायल हो गए। 20 डॉक्टरों की टीम उसकी जान बचाने की कोशिश कर रही है। आरोपी शनिवार दोपहर गुड़िया दिलाने के बहाने बच्ची को डिंडोली तालाब की ओर ले गया और अंबिका टाउनशिप के पास दुष्कर्म किया। इसके बाद बच्ची को लहूलुहान और अचेत हालत में वहां पड़े पाइपों में फेंककर लौट आया।

पुलिस और पड़ोसी बच्ची को शनिवार रात पौने 2 बजे स्मीमेर अस्पताल लाए। उसके दोनों प्राइवेट पार्ट बुरी तरह क्षतिग्रस्त थे। इसके अलावा और तीन जगह से खून बह रहा था। पड़ोसियों ने शनिवार रात धुनाई के बाद आरोपी को डिंडोली पुलिस के हवाले कर दिया। आरोपी बिहार के नवादा जिले का रहने वाला रोशन सिंह है, जो दो दिन पहले ही डिंडोली में रहने वाली अपनी मां के पास आया था।  

बच्ची एनआईसीयू में, 1 महीने बाद एक और सर्जरी होगी
बच्ची के दोनों प्राइवेट पार्ट के अंदरुनी हिस्से भी क्षतिग्रस्त हो गए। दोनों प्राइवेट पार्ट को अलग करने वाली चमड़ी फट जाने से दोनों हिस्से एक हो गए। लिहाजा 15 डॉक्टरों समेत 25 चिकित्साकर्मियों की टीम को ऑपरेशन कर डॉक्टरों को मलद्वार का नया रास्ता बनाना पड़ा। सिर में भी चोट थी और ओठ और एक कान का निचला हिस्सा कटा हुआ था। डॉक्टरों को 20 से 30 टांके लगाने पड़े। बच्ची अभी ऑक्सीजन पर एनआईसीयू में है। उसका करीब एक महीने बाद एक और मेजर ऑपरेशन होगा। अभी उसकी स्थिति गंभीर, लेकिन स्थिर है।

घाव सूखने में लगेंगे डेढ़ महीने : 
डिंडोली इलाके में शनिवार रात घर में सो रही 5 साल की बच्ची को कोई उठा ले गया और उसके साथ दुष्कर्म किया। जब वो वापस रोते हुए आई तब घरवालों को बच्ची के साथ कुछ गलत होने का शक हुआ। सुबह बच्ची को वो अस्पताल ले गए, जहां चार डॉक्टरों की टीम ने उसकी दो घंटे तक सर्जरी की।

बच्ची के साथ ऐसी दरिंदगी हुई है कि उसके प्राइवेट पार्ट में कुल 20 टांके लगाने पड़े। जख्म करीब छह इंच अंदर तक है, जहां 12 टांके लगे हैं। इसका असर मलद्वार में भी हुआ है, इसलिए 8 टांके लगाए गए हैं। डॉक्टरों के अनुसार घाव सूखने में कम से कम डेढ़ महीने लगेंगे। फिलहाल उसकी हालत स्थिर है।

पुलिस ने मामले में 9 लोगों को हिरासत में लिया है, लेकिन अब तक आरोपी की गिरफ्तारी नहीं हुई है। पीड़ित बच्ची और उसके माता-पिता डिंडोली मोदीइस्टेट की झोपडपट्टीवाले इलाके में रहते हैं। मां ने बताया कि रात 10 बजे घर के सभी लोग सो गए थे। रात 2 बजे अचानक बच्ची रोते हुए घर आई। बच्ची शौच करके लौटी है, यह सोचकर मां उसे धुलाने के लिए बाहर ले गई। इस दौरान मां के हाथों पर खून लग गया।
मध्यप्रदेश और देश की प्रमुख खबरें पढ़ने, MOBILE APP DOWNLOAD करने के लिए (यहां क्लिक करेंया फिर प्ले स्टोर में सर्च करें bhopalsamachar.com

और अधिक समाचारों के लिए अगले पेज पर जाएं, दोस्तों के साथ साझा करने नीचे क्लिक करें

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

Loading...

Advertisement

Popular News This Week