Loading...

महिला शिक्षक: पहले 5 लड़कों ने गैंगरेप किया, फिर 4 अन्य से शिकार बनाया | CRIME NEWS

नई दिल्ली। पंजाब के कपूरथला के थाना सुभानपुर क्षेत्र में 24 साल की एक महिला शिक्षक के साथ 2 बार गैंगरेप हुआ। पहले 5 लड़कों ने सामूहिक बलात्कार किया। पीड़िता ने जिससे मदद मांगी वो भी उसे अपने दोस्तों के बीच ले गया और 4 लोगों ने मिलकर दुष्कर्म किया। पीड़िता आरोपी की दादी से शिकायत करने गई तो उसे पीटकर भगा दिया गया। पुलिस ने दो महिलाओं समेत 14 लोगों के खिलाफ कई धाराओं के तहत केस दर्ज करके चार को गिरफ्तार कर लिया है। अन्य आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस छापामारी जारी है।

युवती शिक्षिका थी, मोटी कमाई का लालच देकर फंसाया

डीएसपी भुलत्थ दविंदर सिंह के अनुसार 10 अक्टूबर को गांव लखन खोले और दयालपुर में एक युवती से दो बार दुष्कर्म होने की शिकायत आई है। डीएसपी के अनुसार युवती एमए-बीएड है और खुद को शिक्षिका बता रही है। उसने पुलिस को दी गई अपनी शिकायत में बताया कि पांच महीने पहले वह जालंधर में एक गैस एजेंसी पर काम करने वाले भोलू नाम के आदमी से मिली थी, जो कि ड्रग एडिक्ट है। उसने उसे मोटी कमाई का लालच दिया। इसके बाद उसने युवती को कपूरथला के सोनू पुत्र गोरा नाम के ड्रग्स तस्कर से मिलवाया। इसके बाद वह ड्रग्स के इस धंधे में आ गई और सोनू के मित्र जसवीर सिंह उर्फ शीरी से एक कमरा किराए पर लिया। 

मदद के लिए चिल्लाती रही, डीजे की तेज आवाज में किसी ने नहीं सुना

शीरी ने अपने घर में 10 अक्टूबर को जन्मदिन की पार्टी आयोजित की और अपने दोस्तों को आमंत्रित किया। उसी रात (10 अक्टूबर) शीरी ने युवती को बहाने से बाहर बुलाया और खेतों में मोटर वाले कमरे पर ले गया। वहां पर सोनू पुत्र जोगिंदर सिंह निवासी लखन खोले और उसके चार दोस्त पहले से मौजूद थे। सभी ने उसके साथ दुष्कर्म किया। वह मदद के लिए चिल्लाती रही। डीजे की तेज आवाज के बीच उसकी आवाज दबकर रह गई। सभी उसे वहीं पर पर छोड़कर चले गए। 

परिचित से मदद मांगी तो उसने भी 3 साथियों के साथ गैंगरेप किया

वह किसी तरह जालंधर-अमृतसर रोड पर गांव दयालपुर पहुंची और पुल के पास उसे जानकार सतपाल निवासी ढुडिके जिला मोगा मिला, जिसे उसने अपनी व्यथा सुनाकर मदद मांगी। वह उसे थाने ले जाने की बजाय अपने क्वार्टर ले गया, जहां पर उसके तीन साथी सुखविंदर सिंह निवासी होशियारपुर, रविंदर सिंह निवासी गुरदासपुर और कुलविंदर सिंह निवासी मजीठा मौजूद थे। यह चारों हमीरा फैक्ट्री में सिक्योरिटी गार्ड के तौर पर कार्यरत है। इन लोगों ने भी उसकी बेबसी का फायदा उठाते हुए दुष्कर्म किया और सुबह सतपाल उसे दयालपुर के अड्डे पर छोड़ आया और मुंह बंद रखने के लिए कहा। 

दादी और बुआ से शिकायत की तो उन्होंने पीटा और घर से निकाल दिया

वह शीरी के घर गांव लखन खोले पहुंची और सारी घटना शीरी की दादी और बुआ को बताई। इस पर उन्होंने उससे कहा कि पहले वह कपूरथला शहर से दवा ले आए। रिश्तेदारों के जाने के बाद बात करेंगे। जब वह दवा लेकर आई तो दोनों ने उसकी एक न सुनी और मारपीट करके उसे घर से बाहर निकाल दिया। 

डीएसपी के अनुसार युवती ने बताया कि सोनू पुत्र गोरा और भोलू निवासी जालंधर ने उसे नशे की लत लगाई और उससे जबरन नशे की तस्करी भी करवाई। डीएसपी ने बताया कि युवती के बयान पर पुलिस ने केस दर्ज कर सतपाल, कुलविंदर, रविंदर और सुखविंदर को गिरफ्तार कर लिया है। दुष्कर्म के छह आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए छापामारी जारी है।

नशा तस्करी करने वाले सोनू पुत्र गोरा और भोलू के अलावा शीरी की बुआ और दादी को भी नामजद किया गया है। जल्द ही इन्हें भी गिरफ्तार कर लिया जाएगा। युवती के मेडिकल में दुष्कर्म की पुष्टि हुई है। युवती इस समय अपने परिवार के पास है।
मध्यप्रदेश और देश की प्रमुख खबरें पढ़ने, MOBILE APP DOWNLOAD करने के लिए (यहां क्लिक करेंया फिर प्ले स्टोर में सर्च करें bhopalsamachar.com