LOKSABHA CHUNAV HINDI NEWS यहां सर्च करें





MP NEWS: 8 दिन से लापता युवक का कंकाल मिला @ Jabalpur

14 September 2018

सिहोरा। मध्यप्रदेश में जबलपुर के सिहोरा से 8 दिन पहले लापता हुए एक युवक का कंकाल मिला है। उसकी बहन ने सौतेली माँ और बहन पर पर अपहरण का संदेह जताया था लेकिन पुलिस ने इसे गंभीरता से नहीं लिया। इस केस में एक प्रापर्टी डीलर पर भी संदेह किया जा रहा है। युवक की बहन ने पुलिस को कुछ कॉल रिकॉर्डिंग दीं हैं जो उसके आरोप को प्रमाणित करतीं हैं। युवक कटनी स्थित एक मोबाइल कंपनी में काम करता था। 

थाना प्रभारी महेंद्र सिंह चौहान से बताया कि जैन मंदिर के पीछे सिहोरा निवासी गौरव पिता स्वर्गीय गिरजा शंकर मिश्रा (30वर्ष) जो वोडाफोन कंपनी के दफ्तर में इलेक्ट्रिशियन के पद पर कटनी में पदस्थ था जो कुछ दिनों तक कटनी के गायत्रीनगर क्षेत्र में किराए का मकान भी ले रखा था जबकि सिहोरा स्थित उसकी सौतेली मां जबलपुर के मकान में रहती थी। बताया जाता है कि गौरव बीती 6 सितंबर को कटनी से सिहोरा के लिए निकला था। इसके बाद वह स्लीमनाबाद के बाद से लापता हो गया। जिसकी आखिरी कॉल लोकेशन स्लीमनाबाद मिली थी। काफी खोजखबर के बाद जब उसका कहीं सुराग नहीं लगा तो गौरव की पत्नी व बहन ने इसकी सूचना सिहोरा पुलिस को दी। सिहोरा पुलिस ने गुमइंसान कायम कर लिया था। 

मृतक गौरव के परिजनों ने धमकी भरा कॉल रिकॉर्ड का ऑडियो भी पुलिस को सबूत के तौर पर उपलब्ध कराया था लेकिन पुलिस ने गंभीरता से नहीं लिया। यहां तक कि आरोपियों को पूछताछ के लिए भी नहीं बुलाया। तलाश के दौरान शुक्रवार की सुबह साढ़े नौ बजे सिहोरा उपजेल के पीछे नाले से सड़ीगली व क्षत-विक्षत लाश बरामद की गई। पुलिस ने बताया कि चेहरा पूरी तरह से कंकाल बन गया है। गले मे जो माला है उसके आधार पर परिजनों द्वारा पहचान कर ली गई है। 

संपत्ति और अनुकम्पा नौकरी के चलते सौतेली मां और बहन पर संदेह
एक जानकारी में बताया जा रहा है कि गौरव की लाश 4 से 5 दिन पुरानी है जबकि गौरव 9 दिन से लापता था। गौरव की हत्या की आशंका पहले से ही उसकी सौतेली मां और बहन पर जताई जा रही थी। बताया जाता है कि गौरव के लापता होने के बाद उसकी पत्नी व उसके मायके पक्ष के लोगों ने सौंतेली मां माधुरी मिश्रा एवं बहन मायूरी पर संदेह व्यक्त कर धमकी भरे कॉल रिकार्ड भी पुलिस को उपलब्ध कराए थे लेकिन सिहोरा पुलिस ने मामले को गंभीरता से नही लिया। नगर में यह भी चर्चा है कि गौरव के पिता की नौकरी के दौरान मौत हो गई थी जिनकी अनुकम्पा नियुक्ति सौतेली बहन को देने के लिए अक्सर सौतेली मां माधुरी और बहन मायुरी फोन पर धमकी भी देते थे। जिसके काल रिकॉर्ड सिहोरा पुलिस को पहले ही दिए गए थे। 

बिक्री जमीन का सवा करोड़ लेना था मृतक को
मृतक गौरव ने हाल ही में सिहोरा निवासी प्रकाश मिश्रा को 1 करोड़ 30 लाख की जमीन बेची थी। जिसमें कुल 6 लाख रुपये भर देकर खरीददार ने जमीन की रजिस्ट्री और नामांतरण करा लिया और 1 करोड़ 24 लाख रुपये बाकी देने को बचे थे। इसलिए गौरव से जमीन खरीदने वाले प्रकाश मिश्रा पर भी संदेह जा रहा है। बहरहाल पुलिस दोनों बिंदुओं में जांच करते हुए आगें बढ़ रही है।

पिता की मौत भी थी सन्देहास्पद
मृतक गौरव के पिता गिरजाशंकर मिश्रा पशुचिकित्सा विभाग में थे जिनकी मौत भी अप्रैल 2017 में एक सड़क दुर्घटना में सन्देहास्पद ढंग से होने की चर्चा है। जिनकी मौत के बाद अनुकंपा नियुक्ति को लेकर लगातार सौतेली माँ माधुरी फोन करके गौरव को धमकाती रहती थी। जिसपर मृतक की सगी बहन और अन्य परिजनों को पहले से ही सन्देह था। 

इनका कहना
कुछ संदेहियों को थाने पर लाया गया है जिनसे पूछताछ की जा रही है। पीएम रिपोर्ट और जांच के बाद ही पूरे मामले का खुलासा हो सकेगा।
महेंद्र सिंह चौहान, टीआई सिहोरा
मध्यप्रदेश और देश की प्रमुख खबरें पढ़ने, MOBILE APP DOWNLOAD करने के लिए (यहां क्लिक करेंया फिर प्ले स्टोर में सर्च करें bhopalsamachar.com



-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

Suggested News

Loading...

Advertisement

Popular News This Week

 
-->