काले झंडों का डर: रोड-शो में राहुल गांधी ने चेहरा तक नहीं दिखाया, बस में बंद रहे | BHOPAL MP NEWS

17 September 2018

भोपाल। मध्यप्रदेश की धरती पर काले झंडों का खौफ अब सबके चेहरों पर दिखाई दे रहा है। पिछले दिनों बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने अपना रतलाम दौरा निरस्त कर दिया था। कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी ने कार्यक्रम तो निरस्त नहीं किया परंतु 18 किलोमीटर के रोड शो के दौरान वो बस में ही दुबके रहे। बस की छत पर आकर ना तो कार्यकर्ताओं का स्वागत स्वीकार किया और ना ही आम जनता का अभिवादन किया। डर था, कहीं बस की छत पर आए तो पता नहीं किस बिल्डिंग की छत से काला झंडा दिखा दिया जाए। बता दें कि इन दिनों मध्यप्रदेश में एससी/एसटी एक्ट में हुए संशोधन के खिलाफ छापामार आंदोलन चल रहा है। पता ही नहीं चलता, कब-कौन-कहां से निकलकर किसे काले झंडे दिखा दे। 

18 किलोमीटर लम्बा रोड-शो, राहुल गांधी बस में बंद रहे
मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में आज एक एतिहासिक दिन था। कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी का रोड-शो। करीब 18 किलोमीटर लम्बे रोड-शो में प्रदेश भर से आए हजारों कांग्रेस कार्यकर्ता सड़क के दोनों ओर खड़े थे। वो राहुल गांधी को बस नजदीक से देखना चाहते थे। लाखों लोग अपने और अपने दोस्तों के घरों, दुकानों की छतों पर थे। वो भी देखना चाहते थे कि राहुल गांधी का रोड-शो कैसा होता है परंतु राहुल गांधी एयरपोर्ट के बाद एक बस में सवार हुए और सीधे सभा स्थल तक जा पहुंचे। लोगों को राहुल गांधी दिखाई ही नहीं दिए। एक बस दिखाई दी जिसमें राहुल गांधी बैठे थे। कभी कभी खिड़की से हाथ हिला दिया करते थे। 

काले झंडों के डर ने दुबका दिया
भोपाल में राहुल गांधी के रोड-शो को लेकर कोई विशेष सिक्योरिटी अलर्ट नहीं था। राहुल गांधी आतंकवादियों के निशाने पर नहीं है और भोपाल कोई नक्सली शहर भी नहीं है। पाताल से लेकर आसमान तक सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम थे। भोपाल पुलिस के बंदोबस्त पर वैसे भी कोई उंगली नहीं उठाता। यहां मासूम बच्चियों को रेप हो सकता है परंतु किसी वीआईपी को कभी खतरा नहीं होता। माना जा रहा है कि एक बार थी जो राहुल गांधी को डरा रही थी और वो है, सवर्ण व पिछड़ा वर्ग समाज के काले झंडे। इन्हीं काले झंडों के डर से अमित शाह ने अपना कार्यक्रम निरस्त कर दिया था। राहुल गांधी ने कार्यक्रम तो निरस्त नहीं किया लेकिन 18 किलोमीटर तक बंद में दुबके रहे। 
मध्यप्रदेश और देश की प्रमुख खबरें पढ़ने, MOBILE APP DOWNLOAD करने के लिए (यहां क्लिक करेंया फिर प्ले स्टोर में सर्च करें bhopalsamachar.com

और अधिक समाचारों के लिए अगले पेज पर जाएं, दोस्तों के साथ साझा करने नीचे क्लिक करें

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

Loading...

Advertisement

Popular News This Week