Loading...

शिवराज सिंह ने जिसकी पीठ थपथपाई थी, 150 सरपंचों के साथ कांग्रेस में शामिल

भोपाल। नरसिंहपुर जिले की ग्राम पंचायत सडूमर का नाम सबसे पहले तब सुर्खियों में आया था जब 21 साल की  कु. मोना कौरव सरपंच चुनी गई थी। इसके बाद भाजपा ने मोना को काफी प्रमोट किया। सीएम शिवराज सिंह ने ना केवल उसकी पीठ थपथपाई बल्कि सार्वजनिक रूप से भी मोना की तारीफ की। आज वही मोना कौरव 150 सरपंचों के साथ कांग्रेस में शामिल हो गई। इस अवसर पर पूर्व केंद्रीय राज्य मंत्री सुरेश पचौरी और युवा कांग्रेस अध्यक्ष कुणाल चौधरी उपस्थित थे। 

पुराने दिन लौटा दें, अच्छे हम खुद ले आयेंगे: मोना कौरव

युवा सरपंच मौना कौरव ने अपने रोचक अंदाज में कहा कि गांधी जी का सत्य, इंदिराजी की निडरता, न्याय और राजीव जी की ज्वाला हमारे साथ है। मामा का घड़ा भर चुका है। इस बार कांग्रेस की सरकार बनना जरूरी है। सुश्री कौरव ने कहा कि भाजपा सरकार में अवैध काम के अलावा कुछ नहीं हो रहा है। यहां सिर्फ बेरोजगारी है और सिर्फ शराब बिक रही है। ये लोग राम मंदिर बनाने आये थे और अब बीजेपी के दफ्तर सजा रहे हैं। मामाजी, हमें नहीं चाहिये अच्छे दिन, हमें हमारे पुराने दिन ही लौटा दें, हम अपने दिन खुद अच्छे ले आयेंगे।

भाजपा ने सरपंचों को किसी लायक नहीं छोड़ा: मोना कौरव 

मौना कौरव ने कहा कि प्रदेश के पंच सरपंचों को भाजपा सरकार ने किसी लायक नहीं छोड़ा। सरपंचों पर धारा-40 लगाई जाती है। जो सरपंच भाजपा की सदस्यता ले लेता है उस पर से यह धारा हटा ली जाती है। अस्सी हजार बच्चे प्रदेश में कुपोषित हैं और मामा यात्रा निकाल रहे हैं। पंचायत राज समाप्त होने पर आ गया है। उन्होंने कमलनाथ से कहा कि सभी सरपंच आचार संहिता का इंतजार कर रहे हैं, वे सभी कांगे्रस में आ जायेंगे। महिला सरपंच भी आज यहां आना चाहती थीं, लेकिन वे इसलिये नहीं आयीं कि इस सरकार में समय खराब चल रहा है, पता नहीं रास्ते में क्या हो जाये? 
मध्यप्रदेश और देश की प्रमुख खबरें पढ़ने, MOBILE APP DOWNLOAD करने के लिए (यहां क्लिक करेंया फिर प्ले स्टोर में सर्च करें bhopalsamachar.com