छात्रा से बलात्कार के आरोपी शिक्षक की नग्न करके परेड कराई | NATIONAL NEWS

नई दिल्ली। आंध्र प्रदेश में एक शिक्षक को नग्न करके पीटा गया और उसकी परेड निकाली गई। शिक्षक पर आरोप है कि उसने 10वीं की छात्रा का ज्यादा नंबर देने का लालच देकर कई बार रेप किया। इससे छात्रा गर्भवती हो गई। फिर शिक्षक ने गर्भपात कराने के लिए उसे दवाएं भी दीं। दवाओं के रिएक्शन से छात्रा की हालत काफी खराब हो गई थी। जब लोगों को इसका पता चला तो उन्होंने अध्यापक को बेरहमी से पीटा और नंगा करके परेड निकाली। 

आंध्र प्रदेश राज्य के गोदावरी जिले के इलुरु में जब यह सब हो रहा था तो वहीं से गुजर रहे एक व्यक्ति ने इसका वीडियो बनाया। वीडियो में यह साफ तौर पर दिखाई दे रहा है कि कि एक 38 साल के व्यक्ति को व्यस्त सड़क के बीचों बीच भरे ट्रैफिक में चलने पर मजबूर किया जा रहा है। बताया जा रहा है कि रामबाबू अंग्रेजी का अध्यापक है और उसने 2 साल पहले 10वीं में पढ़ने वाली छात्रा के साथ यौन शोषण किया था। इसके बाद जब छात्रा गर्भवती हो गई तो आरोपी अध्यापक ने ही उसे गर्भपात के लिए दवाईयां भी दीं लेकिन दवाओं के रिएक्शन से छात्रा को रक्तस्त्राव शुरू हो गया और सारा मामला परिवार के सामने जा पहुंचा। 

इस बारे में पता चलते ही लोगों ने अध्यापक को पहले तो पीटा, फिर उसके कपड़े उतारकर नग्न अवस्था में पुलिस स्टेशन तक परेड निकाली। वीडियो में ये देखा जा सकता है कि अध्यापक के दोनों तरफ दो व्यक्ति खड़े हैं। जिन्होंने उसके कंधे को पकड़ा हुआ है और उसे पुलिस स्टेशन की तरफ लेकर जा रहे हैं।

अध्यापक ने गुनाह मान लिया
वीडियो में ही एक व्यक्ति यह भी कहते हुए दिख रहा है कि कक्षा 10 में पढ़ने वाली लड़की को उसने नंबर देने का लालच देकर उसके साथ रेप किया। उसे गर्भवती कर दिया। ज्यादा खून बहने के कारण उसकी मौत होने वाली थी लेकिन उसे वक्त रहते अस्पताल पहुंचाया गया। जैसे ही पाया गया कि उसके साथ ये सब हुआ है तब से उसे अकेला नहीं छोड़ा जा रहा है।

वहीं जब आरोपी अध्यापक को पुलिस स्टेशन ले जाया गया तो पहले तो पुलिस ने उसे शरीर ढकने के लिए शर्ट और एक तौलिया दिया। इसके बाद पुलिस ने उसे बिठाया और उससे पूछताछ शुरू की। पुलिस को दिए अपने बयान में उसने कहा कि लोगों ने उसे पहले तो बात करने के लिए फोन करके बुलाया। जब वह पहुंचा तो वहां मौजूद 15 लोगों ने उसकी जमकर पिटाई की। हालांकि बाद में अध्यापक ने अपना गुनाह भी मान लिया। पुलिस ने रामबाबू के खिलाफ मामला दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर लिया है। वहीं भीड़ के खिलाफ अभी तक कोई मामला दर्ज नहीं किया गया है जिन्होंने कानून अपने हाथ में लिया था।
मध्यप्रदेश और देश की प्रमुख खबरें पढ़ने, MOBILE APP DOWNLOAD करने के लिए (यहां क्लिक करेंया फिर प्ले स्टोर में सर्च करें bhopalsamachar.com