BHOPAL | राखी से पहले बहन के दुपट्टे की फांसी बनाकर झूल गया 10 साल का मासूम | MP NEWS

23 August 2018

भोपाल। बच्चों के मासूम मन में क्या चल रहा होता है यह पता रखना बहुत जरूरी है। गांधीनगर क्षेत्र में चौथी क्लास में पढ़ने वाले 10 साल के मासूम ने केवल इसलिए फांसी लगा ली क्योंकि उसके माता-पिता घर का राशन खरीदने बाजार चले गए थे और उसकी बहन भी खेलने के लिए घर से बाहर चली गई। सबने उसे अकेला घर में छोड़ दिया। इस बात से वो इतना दुखी हुआ कि उसने सुसाइड कर लिया। रक्षाबंधन के 4 दिन पहले उसने अपनी बहन के दुपट्टे की फांसी बनाई और झूल गया। 

गांधी नगर टीआई बीआर शर्मा के अनुसार शांति नगर निवासी 10 वर्षीय धीरज पिता दुलीचंद अमरिया सरकारी स्कूल में चौथी क्लास में पढ़ता था। बुधवार दोपहर को उसके माता-पिता बाजार में शॉपिंग जाने के लिए तैयार हो रहे थे। इस दौरान धीरज ने दोनों से साथ मार्केट ले जाने की जिद की लेकिन माता-पिता ने जल्दी आने की बात कहकर धीरज को मना कर दिया।

रोता हुआ छोड़कर चले गए थे पेरेंट्स
माता और पिता धीरज को कमरे के अंदर छोड़कर बाहर निकल गए। जाते-जाते उन्होंने ये भी बोला कि घर में बहन अकेली है तुम उसका साथ ही रहना और इधर-उधर मत जाना लेकिन उनके जाते ही धीरज रोते हुए अपने कमरे में चला गया।

बहन भी उसे अकेला छोड़कर चली गई
धीरज से तीन साल बड़ी उसकी 14 साल की बहन अपने भाई धीरज को कमरे में छोड़कर घर के बाहर निकल गई। करीब 25 मिनट बाद वह वापस घर पहुंची तो धीरज फांसी के फंदे पर झूल रहा था। उसने बहन के दुपट्टे का फंदा बनाकर फांसी लगा ली थी।

फंदा काटकर लेकर पहुंची अस्पताल
बहन की चीख पुकार सुन शांति नगर में रहने वाले लोग डुलीचंद के घर पहुंचे। जहां पर धीरज को फांसी के फंदा काट और उसको लेकर अस्पताल पहुंचे। जहां पर डाक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया।

खाने के लिए चिप्स और टाफी लेकर आने का बोला था
एसआई सीएस पाराशर का कहना है कि शुरूआती जांच में पता चला है कि बच्चा बाजार जाने की जिद्द कर रहा था। बच्चे ने पिता से चिप्स और टॉफी लेकर आने का बोला था। उसके मां और पिता उसके के लिए ये सामान लेकर वापस पहुंच पाते, तब तक उनको अनहोनी की सूचना मिल गई।

पसंद की राखी भी नहीं दिलाई थी
धीरज अपने बहनों का इकलौता भाई था। बहनों ने धीरज के साथ रक्षाबंधन त्योहार मनाने के लिए राखी भी खरीद ली थी, लेकिन उसको पंसद नहीं आई तो बहनें त्योहार से पहले उसकी पंसद की राखी लेने की बातें भी कर रही थी। भाई और बहन में काफी प्यार था। दोनों की उम्र में ज्यादा अंतर नहीं होने के कारण दोनों अक्सर साथ ही रहते थे। भाई की मौत पर बहनों के आंसू थमने का नाम नहीं ले रहे हैं।
मध्यप्रदेश और देश की प्रमुख खबरें पढ़ने, MOBILE APP DOWNLOAD करने के लिए (यहां क्लिक करेंया फिर प्ले स्टोर में सर्च करें bhopalsamachar.com

और अधिक समाचारों के लिए अगले पेज पर जाएं, दोस्तों के साथ साझा करने नीचे क्लिक करें

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

mgid

Loading...

Popular News This Week

Revcontent

Popular Posts