सहस्त्रार्जुन जयंती पर भी शासकीय अवकाश घोषित करो: कलचुरी समाज की मांग | MP NEWS

30 August 2018

भोपाल। कलचुरी सेना परिवार मध्यप्रदेश के एक प्रतिनिधि मंडल ने कलार समाज की मांगो को चुनावी घोषणा पत्र में शामिल करने बीजेपी संगठन के पदाधिकारियों से मुलाकात की। कलचुरी सेना के अध्यक्ष कौशल राय ने बताया कि विधानसभा एवं लोकसभा चुनावों से बीजेपी के चुनावी घोषणा पत्र समाज की प्रमुख मांगो को शामिल कराने के लिए गुरुवार को बीजेपी उपाध्यक्ष बिजेश लुनावत और प्रवक्ता राजो मालवीय से मुलाकात की।

समाज के प्रतिनिधि मंडल ने ज्ञापन के जरिए बताया कि लंबे समय से कलचुरी समाज भगवान सहस्त्रबाहु की जयंती पर शासकीय अवकाश की मांग कर रहा है, इसके साथ ही भगवान श्री सहस्त्रार्जुन की जन्म स्थली महेश्वर में सहस्त्रार्जुन मेला, महेश्वर को सहस्त्रार्जुन धाम और इंदौर से मनमाड जाने वाली रेलवे लाइन को महेश्वर से जोडने की सामाजिक मांग को चुनावी घोषणा पत्र में शामिल करने की मांग रखी। कलचुरी सेना के संगठन महमंत्री वीर सिंह राय ने बीजेपी संगठन से कलार समाज के युवाओं और महिलाओं को आबादी के मुताबिक विधानसभा चुनाव में प्रतिनिधित्व देने और संगठन में शामिल करने की मांग भी की। महिला कार्यकारी अध्यक्ष मंजू श्री बारकिया ने बताया कि महेश्वर धाम से कलचुरी समाज की आस्था जुडी है देश के विभिन्न राज्यों से समाज के लाखों लोग भगवान सहस्त्रार्जुन का पूजन और दर्शन करने मध्यप्रदेश की धरती पर पहुंचते है। यदि समाज की मांगो को पूरा किया जाता है तो समाज पार्टी की जनहितेषी योजनाओं को समाजिक बंधुओं तक पहुंचायेगा।  

ये हुए शामिल -
प्रदेशाध्यक्ष कौशल राय, अश्वनी राय, नगीन बारिकिया, मंजू श्री बारकिया कार्यकारी प्रदेशाध्यक्ष महिला मोर्चा, कांग्रेस नेता युवराज राय,वरिष्ठ नागरिक मंच के कल्पना राय, आईडी राय, डी पी गुप्ता, संगठन महामंत्री वीरसिंह राय, जिलाध्यक्ष संजय चौकसे, युवा जिलाध्यक्ष प्रमोद राय, राजेश राय, भगवान दास चौकसे, दीपक चौकसे, रूप सिंह राय, नीलम चौकसे, धीरज मालवीय, देवेन्द्र जायसवाल, आशीष चौकसे, जीतू राय, गोलू राय, शिवनारायण चौकसे, जगदीश चौकसे आदि सहित कई स्वाजातिय साथी उपस्थित थे

ये है मांग- 
1- महेश्वर एक पौराणिक नगर है जो हमारे आराध्य देव भगवान श्री सहस्त्राजुन की जन्मस्थली भी है। श्री सहस्त्रार्जुन भगवान विष्णु के सुदर्शन चक्र के अवतार है। अत: हम मांग करते है महेश्वर का नाम श्री सहस्त्राजुन महेश्वर धाम किया जावे। 
2- भारत शासन द्वारा एक ब्राडगेज की रेलवे लाइन इंदौर से मनमाड स्वीकृत की गई है जो कि महेश्वर से 12 किलोमीटर दूर धामनोद से निकलना प्रस्तावित है। कलचुरी सेना का आग्रह है कि महेश्वर एक पौराणिक तीर्थ स्थल है जहां प्रतिवर्ष लाखों पर्यटक दर्शनार्थी आते है अत: यह रेलवे लाइन महेश्वर से होकर मनमाड जावे।
3- महेश्वर में प्रतिवर्ष कुछ वर्ष पूर्व तक निमाड़ मेला आयोजित किया जाता रहा है किंतु कुछ वर्षों से यह आयोजन बंद कर दिया गया है। हमारी मांग है कि महेश्वर में प्रतिवर्ष श्री सहस्त्रार्जुन मेला नाम से आयोजन फिर शुरु किया जावे। 
4- श्री सहस्त्रार्जुन जयंती के दिन ऐच्छिक अवकाश दिया जाता है जिसे पूर्ण शासकीय अवकाश घोषित किया जावे। 
मध्यप्रदेश और देश की प्रमुख खबरें पढ़ने, MOBILE APP DOWNLOAD करने के लिए (यहां क्लिक करेंया फिर प्ले स्टोर में सर्च करें bhopalsamachar.com

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

Loading...

Popular News This Week