वेश्याएं भी बहन और बेटी होती है, मैं तो उनके भी चरण धोउंगा: मुख्यमंत्री | MP ELECTION NEWS

11 August 2018

भोपाल। मुझे वेश्या कहने वाले कांग्रेसी यह ठीक से समझ लें कि किसी न किसी मजबूरी में वेश्यावृत्ति के धंधे में फंसने वाली महिलाएं भी किसी की मां होती है, किसी की बहन होती है, किसी की बेटी होती है। उनकी मजबूरी से उपजी परिस्थितियों का उपहास उड़ाकर कांग्रेस के लोग मानवता के प्रति अपराध कर रहें हैं। मेरे लिए तो वह सभी महिलाएं भी आदर की पात्र हैं जिन्होंने जिन्दगी की जद्दोजहद में इस दल-दल में पैर रखें हैं। इसलिए भारतीय जनता पार्टी उन सभी महिलाओं का भी सम्मान करती है और मैं तो उनके भी चरण धोउंगा।

यह बात मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चौहान ने शनिवार को आगर जिले के नलखेड़ा में आयोजित सभा में कही। उल्लेखनीय है कि विगत दिनों कांग्रेस के एक विधायक ने मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चौहान की जनआशीर्वाद यात्रा को लेकर बेहद गंभीर और अभद्र टिप्पणी की थी। उस टिप्पणी से आहत शिवराजसिंह जी को हजारों लोगों के सामने यह जवाब देना पड़ा। इससे पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष श्री कमलनाथ जी मुख्यमंत्री के प्रति अशिष्ट भाषा का प्रयोग कर चुके हैं।

मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चौहान जन आशीर्वाद यात्रा के अंतर्गत शनिवार को हेलीकॉप्टर से आगर जिले के कानड़ पहुंचे। यहां हेलीपेड पर मुख्यमंत्री के स्वागत के लिए भारी भीड़ जमा थी। सांसद एवं पार्टी के प्रदेश महामंत्री श्री मनोहर ऊंटवाल, विधायक श्री गोपाल परमार, सुसनेर विधायक श्री मुरलीधर पाटीदार, जिलाध्यक्ष श्री दिलीप सकलेचा सहित पार्टी के वरिष्ठ नेतागण, पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं ने मुख्यमंत्री की अगवानी की। कानड़ में विशाल जनसभा को संबोधित करने के बाद मुख्यमंत्री सड़क मार्ग से नलखेड़ा पहुंचे।

कांग्रेसी मित्रों को उनकी गालियां मुबारक
नलखेड़ा पहुंचने पर मुख्यमंत्री ने सबसे पहले मां बगुलामुखी के मंदिर में पहुंचकर आशीर्वाद लिया। इसके उपरांत आयोजित जनसभा में मुख्यमंत्री ने कहा कि कांग्रेस के लोग मुझे रोज गालियां देते रहते हैं। न जाने क्यों वो इतने बौखलाए हुए हैं। काँग्रेस के नेता कभी मुझे नालायक तो कभी मदारी कहते हैं। मैं उनसे कहना चाहता हूं कि हां, मैं मदारी हूँ तभी तो डमरू बजाकर गरीबों की बिजली का बिल जीरो कर दिया। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के नेता अब कहते है कि शिवराज सिंह वेश्या है। उन्होंने जनता से पूछा कि कांग्रेस नेताओं की यह भाषा क्या दर्शाती है। क्या ये हमारे भारतीय संस्कार हैं? मुख्यमंत्री ने मंच से कांग्रेस नेताओं को इस आक्षेप का जवाब देते हुए कहा कि कांग्रेस के नेताओं ने मुझे वेश्या कहा है, लेकिन शिवराजसिंह चौहान वेश्याओं को भी अपनी बहन मानता है। उनके भी पाँव धोएगा। उन्होंने कहा कि मैं नारी जाति का सम्मान करता हूँ, इज्जत करता हूँ। किसी मजबूरी में ऐसे दलदल में फंसी बहनों को भी दलदल से निकालूंगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि जिस तरह स्वामी विवेकानद और स्वामी रामकृष्ण परमहंस ने वेश्या को माँ कहा था, मेरे लिए भी वह माँ है, बहन है और बेटी है। मैं माताओं, बहनों और बेटियों का सम्मान कम नहीं होने दूंगा।
मध्यप्रदेश और देश की प्रमुख खबरें पढ़ने, MOBILE APP DOWNLOAD करने के लिए (यहां क्लिक करेंया फिर प्ले स्टोर में सर्च करें bhopalsamachar.com

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

Loading...

Popular News This Week

 
-->